इंदौर में डॉक्टरों ने नवजात को बगैर ऑक्सीजन के MY भेजा, रास्ते में मौत हुआ हंगामा !

इंदौर में डॉक्टरों ने नवजात को बगैर ऑक्सीजन के MY भेजा, रास्ते में मौत हुआ हंगामा !

इंदौर– इंदौर के लाल अस्पताल में डॉक्टरों की लापरवाही के चलते नवजात बच्चे की मौत का मामला सामने आया है। डिलीवरी के बाद डॉक्टरों ने बगैर ऑक्सीजन नवजात को पांच किमी दूर एमवायएच भेज दिया जिससे बच्चे की रास्ते में मौत हो गई।

दरअसल मल्हारगंज पॉलीक्लिनिक लाल अस्पताल में स्टाफ ने डिलीवरी के बाद नवजात को बिना ऑक्सीजन के एमवायएच रैफर कर दिया। रास्ते में बच्चे की मौत हो गई। असंवेदनशीलता का आलम यह है कि अस्पताल में एम्बुलेंस की व्यवस्था तक नहीं थी। जच्चा-बच्चा को ऑटो में ही जाने के लिए कह दिया गया। गंगानगर निवासी राहुल बामनिया की पत्नी प्रीति की पहली प्रसूति थी। परिजन बुधवार सुबह ही लाल अस्पताल प्रसूति के लिए पहुंचे। बताया जा रहा है कि प्रसूति के दौरान बच्चा फंस गया, स्टाफ ने ध्यान नहीं दिया। जब ऐसा लगा कि कोई परेशानी हो सकती हैं तो तुरंत बच्चे को एमवायएच ले जाने के लिए कह दिया। अस्पताल में एम्बुलेंस नहीं होने से बच्चे को ऑटो से ले जाया गया इस दौरान बच्चे की मौत हो गई।

वहीं इस मामले में अस्पताल के जिम्मेदारों का कहना है कि परिजनों ने जबरदस्ती डिलीवरी करवाई। इतना ही नहीं डॉक्टर कह रहे है कि लिखकर दे तब जांच होगी। परिजनों ने मामले की शिकायत मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से भी की है। वही अब देखना होगा कि मामले की जांच होती है या फिर नहीं।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0