विधानसभा में मीडिया से दूरी, क्या है कमलनाथ सरकार की मजबूरी !

विधानसभा में मीडिया से दूरी, क्या है कमलनाथ सरकार की मजबूरी !

भोपाल | विधानसभा में मीडिया से दूरी, आखिर क्या है कमलनाथ सरकार की मजबूरी, जी हां आज ये सवाल मिडिया के गलियारों में है क्योंकि सरकार ने नया फरमान जारी कर दिया है जिसके तहत अब विधानसभा के अंदर पत्रकार की एंट्री नहीं होगी.
दरअसल, ये सरहद का मंज़र नहीं बल्कि मध्यप्रदेश विधानसभा का हाले बायां है, जहां कमलनाथ सरकार ने सुरक्षा का हवाला देते हुए मिडिया के लिए दायरा तय कर दिया है,दरअसल, विधानसभा में पत्रकारों से चर्चा के करने के लिए एक जगह सुनिश्चित कर दी है इसके तहत अब पत्रकार अपनी मनमर्जी से मंत्रीजी और विधायक जी से चर्चा नहीं कर पाएंगे, जब मंत्रीजी खुद चल कर मिडिया से रूबरू होने आएंगे तब ही उनसे सवाल जवाब हो सकेगा.

वही जब गृहमंत्री बाला बच्चन और पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल ने इसे पुरे निर्णय को विधानसभा अध्यक्ष का निर्णय करार दिया… और इसके पीछे तर्क विधानसभा की व्यवस्था का दिया…आप भी सुन लीजिये इस फरमान की कहानी खुद मंत्रीजी की जुबानी…

कुलमिलाकर, कमलनाथ सरकार मिडिया की एंट्री पर रोक को भले ही व्यवस्था का नाम दे रही हो लेकिन एक सवाल सब की जुबा पर है मीडिया से दूरी, आखिर क्या है कमलनाथ सरकार की मजबूरी….बहरहाल अब देखना दिलचस्प होगा आखिर यह फरमान कब तक लागु रहता है….

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0