MP में ठंड की 20-20, इंदौर में कोहरे का कहर, मालवा में सर्दी की बेदर्दी !

MP में ठंड की 20-20, इंदौर में कोहरे का कहर, मालवा में सर्दी की बेदर्दी !
Spread the love

भोपाल : मध्य प्रदेश इस वक्त ज़बरदस्त ठंड और कोहरे की चपेट में है. चंबल के बाद अब मालवा को भी शीतलहर जकड़े हुए है. प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर ठंड के सभी रिकॉर्ड तोड़ने पर तुला हुआ है…नए साल के मौके कड़ाके के ठंड के अनुमान है…पूरा शहर बर्फ की चादर में लिपटा हुआ है….कोहरे का असर हवाई और रेल यातायात पर भी पड़ रहा है. सुबह घना कोहरा होने के कारण कोलकता से इंदौर आने वाली फ्लाइट की अहमदाबाद में ही लैंडिंग कराना पड़ी. आसमान में एक घंटे चक्कर लगाने के बाद भी विमान को इंदौर एयरपोर्ट पर नहीं उतारा जा सका. अहमदाबाद में लैंड करने पर यात्रियों ने हंगामा कर दिया. इंदौर आने वाली तीन अन्य फ्लाइट भी डिले हुईं.

कोहरे का असर ट्रेनों की आवाजाही पर भी पड़ रहा है. गुरुवार को इंदौर में कोहरा अधिक होने की वजह से उत्तर की ओर से आने वाली कई ट्रेनें लेट पहुंचीं. करीब एक दर्जन ट्रेन घंटों की देरी से इंदौर पहुंचीं. ठंड के प्रकोप के बीच मौसम विभाग ने प्रदेश के 35 जिलाें में बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में आगामी 24 घंटें में भारी या अति भारी बारिश हो सकती है। घने काेहरे के चलते इंदौर में विजिबिलिटी 100 मीटर तक रही और वाहन चालकाें काे लाइट जलाकर ड्राइव करना पड़ा.

उज्जैन में अत्यधिक कोहरे और ठंड के चलते प्रशासन ने सभी शासकीय और अशासकीय स्कूलों में गुरुवार का अवकाश घाेषित कर दिया।पूरे शहर ने कोहरे की चादर ओढ़ ली। यह नजारा काफी दिनों बाद दिखाई दिया, लेकिन उत्तर-पूर्व से चलने वाली हवाओं ने आम आदमी को घर में दुबक पर मजबूर कर दिया है…इधर, भोपाल में सुबह बादल और कोहरा छाए थे, लेकिन दोपहर तक धूप खिल गई है, जिससे ठंड से राहत मिली है। लेकिन सुबह सुबह राजधानी भोपाल कोहरी के आगोश में नजर आई..मौसम विभाग के अनुसार, आज भाेपाल संभाग में कहीं-कहीं बूंदाबांदी हाे सकती है। ओले भी गिर सकते हैं।

भोपाल के आसपास विदिशा, सीहोर और रायसेन में कड़ाके की ठंड का दौर जारी है। देवास जिले के बागली सहित पूरे इलाके में विगत 3 दिनों से सर्द हवाओं के साथ घना कोहरा छाया हुआ है।जिसके कारण वाहनों को सड़कों पर लाइट जलाकरचलना पड़ रहा है..वही कोहरे और ठंड ने किसानों की चिंता बढ़ा दी..वही छिंदवाड़ा में भी शीट लहर का कहर है… 4.8 डिग्री तक पारा लुढ़क गया.. जगह जगह अलाव की व्यवस्था की गई..मंदिरों में भगवान् को गर्म कपडे पहनाए गए साथ ही गोशालाओं में गोवंशों को भी गर्म कपड़ों में लपेटा गया…

रतलाम में भी हाड कंपकपाने वाली ठंड है… घने कोहरे और सर्द हवाओं की वजह से दिन के तापमान में गिरावट आई है. वहीं नए साल के दूसरे दिन भी धूप नहीं निकलने से दिन में भी लोगों को ठिठुरन का सामना करना पड़ रहा है. आज आधा दिन बित जाने के तक घने कोहरे का असर इतना रहा कि दिन में भी वाहनों की रफ्तार थमी रही.वहीं ठंडी हवा और कही कही ओला वृष्टि से भी खेती पर बुरा प्रभाव देखने को मिला.

वही दमोह जिले में मौसम के तेवर कुछ अलग ही नजर आए, सुबह से ही बादल छाए रहे तो वहीं शाम होते होते तेज बारिश ने दमोह जिला मुख्यालय के लोगों को पानी से तरबतर कर दिया.. इतना ही नहीं जिले के कई हिस्सों में पानी गिरने से लोग बारिश में ठंड का एहसास करते नजर आए, तो तेजगढ़ में ओले गिरने से किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीरें नजर आई…कुल मिलाकर कोहरे का कहर और सर्दी की बेदर्दी से पूरा एमपी परेशान है..

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED