प्लास्टिक के खिलाफ संदेश देने साइकिल से भारत यात्रा पर निकला गुजरात का युवक!

प्लास्टिक के खिलाफ संदेश देने साइकिल से भारत यात्रा पर निकला गुजरात का युवक!
Spread the love

कटनी : 15 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले के प्रचारी से देश को संबोधित करते हुए सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ आह्वाण किया। इसके बाद से ही पूरे देश में इसके खिलाफ मूहिम छिड़ गई। पीएम मोदी के इस आह्वाण से एक श्ख्स इतना प्रभावित हुआ कि उसने अपनी लाखों की नौकरी छोड़कर सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ छिड़े इस मूहिम में शामिल हो गया।  मध्य प्रदेश के  मुरैना जिले में रहने वाले ब्रजेश शर्मा जीवन में 15 अगस्त 2019 का दिन व्यापक परिवर्तन लेकर आया । भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सिंगल यूज़ प्लास्टिक का बहिष्कार करने के लिए की गई स्पीच  से  शर्मा इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने विदेश की एक सॉफ्टवेयर कंपनी की लाखों रुपए की नौकरी छोड़ दी और भारत आकर सिंगल यूज प्लास्टिक का बहिष्कार का संदेश देने के लिए साइकल से यात्रा शुरू कर दी । अब तक उनके द्वारा 6 हजार किलोमीटर से भी अधिक की साईकिल यात्रा की जा चुकी है और इस दौरान उन्होंने करीब एक लाख स्कूली छात्रों को सिंगल यूज़ प्लास्टिक का बहिष्कार करने के लिए प्रेरित किया है।

साइकिल यात्रा के दौरान कटनी पहुंचे ब्रजेश शर्मा ने बताया कि वे गुजरात के गांधी नगर में एक सॉफ्टवेयर कंपनी में कार्यरत थे, उसके बाद वे वर्ष 2016 में वे यूरोप के जॉर्जिया में सॉफ्टवेयर कंपनी में एडमिन के पोस्ट पर कार्य कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने पीएम मोदी की स्पीच सुनी, जिसने उन्हें काफी प्रभावित किया। इसके बाद उन्होंने पीएम मोदी के जन्मदिवस 17 सितंबर से इस देशव्यापी साइकिल यात्रा का आगाज किया।  सिंगल यूज प्लास्टिक को पर्यावरण के लिए बहुत अधिक नुकसानदेह माना जाता है। वर्तमान में जिस तरह इसका उपयोग बड़े पैमाने पर किया जा रहा है उसके निकट भविष्य में काफी गंभीर परिणाम हो सकते हैं। इसिलिए वक्त रहते सजग होना जरूरी है। ऐसे में सरकार की यह मूहिम प्रशंसनीय है जिसमें सभी को सहयोग करना चाहिए।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED