एमपी में भिखारियों ने बढ़ाई मुश्किल, सामने आई ये चौंकाने वाली रिपोर्ट

एमपी में भिखारियों ने बढ़ाई मुश्किल, सामने आई ये चौंकाने वाली रिपोर्ट
Spread the love

भोपाल : चौराहों के सिग्नल पर या मंदिर के बहार जब हम भिखारियों को देखते है तो अनदेखा कर देते है. सड़क पर भी कई जगह भिखारियों से टकराव हो ही जाता है, लेकिन जब भिखारियों को लेकर रिपोर्ट सामने आई तो चौंकाने करने वाले आंकड़े सामने आए. सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात यह है कि भिखारियों के मामले में मध्यप्रदेश पुरे देश में पांचवे नंबर पर है.

देशभर में भिखारियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. भिखारियों पर नकेल कसने के लिए सरकार प्रयास भी करती हैं लेकिन भीख मांगने वालों की संख्या घटने के बजाय बढ़ती ही जाती है. इस मामले में केंद्र सरकार ने देश में भिखारियों की संख्या का आंकड़ा जारी किया है.

लोकसभा में पेश रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में कुल 4,13,670 भिखारी हैं, जिनमें 2,21,673 भिखारी पुरुष और 1,91,997 महिलाएं हैं. लोकसभा में सामाजिक कल्याण मंत्री थावरचंद गहलोत ने यह डाटा पेश किया. लोकसभा में एक सवाल के जवाब में दिए गए आंकड़े तस्दीक करते हैं कि देश भर में भिखारियों की संख्या के मामले में मध्य प्रदेश टॉप 5 स्टेट में शामिल है.

आंकड़ों के मुताबिक मध्य प्रदेश में भिखारियों की संख्या 28,695 है, जिसमें से 17506 पुरुष और 11189 महिला भिखारी शामिल हैं. भिखारियों की संख्या के मामले में देश में पश्चिम बंगाल टॉप पर है जहां 81 हजार भिखारी हैं जबकि उत्तर प्रदेश का दूसरा और आंध्र प्रदेश का स्थान तीसरा है. बिहार इस सूची में चौथे पायदान पर है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED