बीजेपी ने तोड़ी विधानसभा की परंपरा – सीएम कमलनाथ !

Spread the love

भोपाल | मध्य प्रदेश विधानसभा में स्पीकर औऱ डिप्टी स्पीकर पद के चुनाव और हंगामे के बाद विपक्ष के आरोप पर सीएम कमलनाथ ने जवाब दिया है,उन्होंने कहा बीजेपी ने परंपरा को तोड़ा है. वो ये बात हजम नहीं कर पा रही है कि वो अब विपक्ष में है.
मध्यप्रदेश विधान सभा की तीन दशक पुरानी परंपरा आज टूट गयी. उपाध्यक्ष का पद सत्ता पक्ष के खाते में चला गया. विपक्ष के भारी हंगामे और आपत्ति के बीच कांग्रेस की हिना कांवरे उपाध्यक्ष चुन ली गयीं. परम्परा के मुताबिक, विधानसभा अध्यक्ष सत्ता पक्ष और उपाध्यक्ष विपक्ष का होता है. लेकिन अब सत्ता पक्ष के पास स्पीकर और डिप्टी स्पीकर दोनों है जिसे लेकर भाजपा ने सदन में जमकर हंगामा किया…सीएम कमलनाथ ने विधानसभा की कार्रवाई स्थगित होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की और विपक्ष के हमलों का जवाब दिया. उन्होंने कहा विधान सभा अध्यक्ष पद के लिए बीजेपी ने अपना उम्मीदवार खड़ा कर बीजेपी ने परंपराएं तोड़ना शुरू किया था. इसलिए हमें डिप्टी स्पीकर के लिए अपना उम्मीदवार खड़ा करना पड़ा.
कमलनाथ ने कहा कि स्पीकर के चुनाव में हमने बहुमत साबित किया था. कांग्रेस के साथ 120 सदस्य थे और बीजेपी के साथ 109 सदस्य थे. बीजेपी बार-बार लगातार कह रही थी कि अल्पमत की सरकार है. उसके आरोप को हमने सदन में ग़लत साबित कर दिया. नाथ ने कहा कि उनके लिए स्पीकर का चुनाव दूसरे नंबर पर था पहले नंबर पर जनता को दिखाना था कि कांग्रेस के पास बहुमत है… वही कमलनाथ ने भाजपा पर सरकार गिराने और विधायकों को खरीदने के भी का आरोप लगाया.

 

कुल मिलाकर विधानसभा में विपक्ष को दूसरी बार मुंह की खाना पड़ी और कमलनाथ ने बजी मार ली..अब देखना होगा कि भाजपा का ये हंगामा कहा तक पहुंचता है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED