मिशन “अबकी बार 200 पार” के लिए भाजपा ने बनाया ये प्लान !

मिशन “अबकी बार 200 पार” के लिए भाजपा ने बनाया ये प्लान !
Spread the love

भोपाल : इस बार प्रदेश में मिशन “अबकी बार 200 पार” करनेके लिए बीजेपी ने एक नया प्लान बनाया है. इस प्लान के मुताबिक बताया जा रहा है कि पार्टी उन सीटों पर ज्यादा ध्यान देंगी जहाँ पिछले विधानसभा चुनाव में हार का अंतर जीरो से 1000 या फिर 1000 से 5000 के बीच रहा. संगठन के सुरमा यात्राओं से लेकर रात्रि विश्राम सिर्फ इन सीटों पर जीत सुनिश्चित करने के लिए कर रहे है.

इस बार प्रदेश भाजपा ने 2018 में मिशन 200 पार के लिए सूरमाओं को चुनाव मैदान में उतर दिया है. इन सूरमाओं का इरादा है कि हार के गड्डो को इस बार यात्रा के क़दमों से भरना है और इस इरादे के साथ ही संगठन के ये सुरमा अपनी टोलियों के साथ अखाड़े में उतरे है. 15 जून को आगर से शुरू हुई युवा मोर्चा की संकल्प यात्रा उन विधानसभा सीटों से गुजरेगी जहाँ भाजपा की हार जीत का अंतर 2013 में मामूली रहा था. सिर्फ युवा मोर्चा ही नहीं प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने भी दूसरे छोर पर मोर्चा संभाल लिया है और यहाँ भी यही कोशिश है कि हार के मामूली अंतर को जीत में बदल दिया जाये.

इस बार हार जीत के अंतर को पाटने के लिए भाजपा अपनी पूरी ताकत चुनाव मैदान में झोंक देने के मूड में है. कांग्रेस के मीडिया प्रमुख का कहना है कि इस बार प्रदेश में भाजपा अपनी मौजूदा सीटों को बचाने में भी नाकाम रहेगी आउट इस बार भजपा की हर कोशिश नाकाम सभी होगी.

इस बार बीजेपी को मिशन 200 को पार करने के लिए एक नया प्लान बनाना पड़ा. 2013 के विधानसभा चुनाव में 230 सीटों वाले विधानसभा में बीजेपी के खाते में 165 सीटें आयी थी जबकि कांग्रेस के खाते में मात्र 57 सीटें ही गयी थी. भाजपा को इस चुनाव में जहां 22 सीटों का लाभ हुआ था वहीँ कांग्रेस को करीब 13 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा था. प्रदेश में लगभग 50 विधानसभा क्षेत्र ऐसे थे जहां दोनों दलों में हार जीत का अंतर 5000 के आस पास रहा था. भाजपा कांग्रेस के टक्कर वाली 12 सीटों पार भाजपा बहुत काम अंतर से जीती थी. इसके अलावा सीधी टक्कर वाली 7 सीटों पर कांग्रेस और 2 सीटों पर भाजपा बहुत काम मार्जिन से जीती थी.

अब 2018 में देखने वाली बात यह होगी कि जीत का सेहरा किसके सिर बंधेगा और ये तो आने वाले चुनाव नतीजे ही बताएँगे.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED