सागर की नादान बेटी की मदद करेंगे CM कमलनाथ, किया ये ऐलान !

सागर की नादान बेटी की मदद करेंगे CM कमलनाथ, किया ये ऐलान !
Spread the love

सागर :- .मध्यप्रदेश के सागर ज़िले में एक बच्ची भूख़ की सज़ा भुगत रही है. 12 साल की उस बच्ची ने भूख़ से तड़पते अपने छोटे भाई-बहनों के लिए चोरी कर ली थी. चोरी पकड़ी गयी और उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया. बच्ची ने मंदिर की दान पेटी से 250 रुपए चुरा लिए थे. चोरी की वजह पापी पेट था. बच्ची के छोटे भाई-बहन भूख़े थे और घर में आटा ना था. पैसे और खाने का कहीं से कोई इंतज़ाम नहीं हो पाया. बच्ची की नज़र गांव के मंदिर में लगी दान पेटी पर पड़ी. उसने दान पेटी में से 250 रुपए निकाल लिए. भूख़़ से बेबस बच्ची इस बात से अनजान थी कि मंदिर में सीसीटीवी लगा हुआ है. जो उसकी हरक़त को क़ैद कर रहा है. चोरी पकड़ में आते ही बच्ची को पकड़ लिया गया और उसे बाल सुधार गृह शहडोल भेज दिया गया.

इस 12वर्षीय बच्ची के सिर से तीन साल पहले मां का साया उठ गया था. उसके पिता मज़दूरी करते हैं. मजदूरी के उसी थोड़े-बहुत पैसे से वो अपना और अपने तीन बच्चों का पेट पालते हैं.ये बच्ची छोटे भाई-बहनों के लिए घर में मां की भूमिका निभाती है और फिर बाहर निकलकर रोटी-पानी का इंतज़ाम करती है. इन सब ज़िम्मेदारियों के बीच वो पढ़ने स्कूल भी जाती है.बालिका के बाल सुधारगृह जाने के उसके आठ वर्षीय भाई और छह वर्षीय बहिन मायूस हैं क्योंकि बालिका सहित इन भाई बहिनों के सर से मां का साया भी उठ चुका है. ऐसे में बहिन की आंखों में ही उन्हें ममता दिखती थी.

मामला जब सीएम कमलनाथ तक पहुंचा तो मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक लाख रुपए की आर्थिक मदद का आश्वासन दिया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि , ‘कई बार जीवन यापन के लिए, अभाव में मासूम गलत राह पकड़ लेते हैं.’ उन्होंने कहा कि बच्ची के परिवार को आर्थिक सहायता देने, सरकारी योजनाओं का लाभ देने और बच्चों के पढ़ाई की व्यवस्था की जाएगी. सीएम साहब ने मदद करके अपनी जिम्मेदारी तो निभा दी लेकिन अगर सिस्टम को ऐसा बनाया जाए कि सरकार के जिम्मेदार अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाए तो शायद ऐसी नौबत कभी नहीं आएगी.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED