पिछड़ा वर्ग के लिए शिवराज सरकार ने खोला पिटारा, की कई बड़ी घोषणाएं !

पिछड़ा वर्ग के लिए शिवराज सरकार ने खोला पिटारा, की कई बड़ी घोषणाएं !
Spread the love

सागर। विधानसभा चुनाव को कुछ ही महीने रह गए है. लिहाजा शिवराज सरकार चुनावी मोड़ में आते हुए कई प्रदेश के सभी वर्गों को साधने में जुट गई है. सीएम शिवराज ने ओबीसी महाकुंभ में पिछड़ा वर्ग के लिए कई बड़ी घोषणा की. प्रदेश सरकार ने पिछड़े वर्ग के बच्चों को शिक्षा के लिए मदद के लिए अभिभावकों की वार्षिक आय सीमा 75 हजार रुपए से बढ़ाकर 3 लाख रुपए प्रति वर्ष की है. साथ ही निर्वाह (अनुरक्षण) भत्ता दोगुना करने की घोषणा की है. यह वृद्धि मैट्रिक के बाद उच्च शिक्षा संस्थानों में चयन होने तक मिलेगी. वही सीएम ने ब्लाॅक स्तर पर छात्रावास खोलने का ऐलान किया.

पिछड़ा वर्ग महाकुम्भ के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने संबोधित करते हुए कहा कि अपने बच्चों को पढ़ने की सुविधा देने से बड़ा उपहार और कुछ नहीं हो सकता. हमने तय किया कि विदेशों में पढ़ाई करने के इच्छुक 50 प्रतिभावान बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था हम करवाएंगे. मेरे पिछड़े वर्ग के भाई-बहनों का प्रदेश में अन्न का भंडार भरने में बड़ा योगदान है. इसलिए आपके परिश्रम का पूरा हक आपको दे रहा हूं. हमने संकल्प लिया है कि वर्ष 2022 तक प्रदेश में कोई भी गरीब बिना अपनी ज़मीन के नहीं रहेगा. वन क्षेत्रों में भी पट्टा दिया जा रहा है. सभी गरीब ज़मीन के मालिक होंगे.

मुख्यमंत्री ने कहा विकासखंड स्तर पर छात्रावास खोले जाएंगे. छात्रावास में जगह नहीं मिलने पर दो विद्यार्थी यदि किराए का मकान लेकर पढ़ाई करते हैं तो किराया सरकार द्वारा देने, विदेशी विश्वविद्यालय में चयन होने पर अब 10 की जगह 50 छात्रों की फीस सरकार भरेगी.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED