नरसिंहपुर में तेल की फैक्ट्रियों पर कलेक्टर व एसपी का छापा, आशु इंडस्ट्रीज हुई सील !

नरसिंहपुर में तेल की फैक्ट्रियों पर कलेक्टर व एसपी का छापा, आशु इंडस्ट्रीज हुई सील !
Spread the love

नरसिंहपुर- त्योहारों के मौसम में मिलावटखोरों पर नकेल कसने के लिए नरसिंहपुर कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने ऑयल इंडस्ट्रीज के 4 प्रतिष्ठानों पर संयुक्‍त टीम के साथ अचानक छापा मारा. इस दौरान आशु इंडस्ट्रीज में भारी अनियमितताओं के चलते उसे सील कर दिया गया.

नरसिंहपुर के करेली तहसील मुख्यालय पर स्थित ऑयल इंडस्ट्रीज के 4 प्रतिष्ठानों पर कलेक्टर दीपक सक्सेना एवं पुलिस अधीक्षक डॉ. गुरुकरण सिंह ने संयुक्‍त टीम के साथ औचक निरीक्षण किया. औचक निरीक्षण से शहर के व्यपारियों में हड़कंप मच गया. निरीक्षण के दौरान आशु इंडस्ट्रीज के परिसर में अत्याधिक गंदगी मिली साथ ही साथ यहां के सभी कार्यों में गंभीर अनियमिततायें सामने आई है. इस दौरान फैक्ट्री संचालकों और मिलावटखोरों की कलेक्टर एसपी ने जमकर क्लास लगाई.

ऑयल इंडस्ट्रीज को गणपति ब्रांड के नाम से आशु इंडस्ट्रीज का लाइसेंस मिला हुआ है. परंतु आशु इंडस्ट्रीज में एक्टिव पक्‍का मोती, आदित्य गोल्ड, मधुर रूची, ट्यूलिप गोल्ड, शक्ति, उड़ान, गणपति सनफ्लॉवर ऑयल, एक्टिव इंदौर फर्स्ट ग्रेड सोयाबीन रिफाइंड ऑयल, फार्चून आदि अनेक ब्रांड के नाम से पैकेजिंग के प्रमाण मिले. यहां किसी प्रकार का कोई लाइसेंस या अन्य दस्तावेज नहीं मिला है और ना ही कोई लेखा-जोखा मिला है. आशु इंडस्ट्रीज के मालिक मौके पर नहीं मिले. निरीक्षण में यह मिथ्या छाप/ मिस ब्राडिंग का गंभीर मामला मिला. यहां मिले कर्मचारियों के बयान दर्ज किए गए हैं.

वहीं गंभीर अनियमितता मिलने पर कलेक्टर दीपक सक्सेना ने आशु इंडस्ट्रीज को सील करने के निर्देश दिए. उन्होंने संयुक्‍त टीम को विस्तृत जांच कर प्रकरण दर्ज करने की हिदायत दी.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED