Vikas Dubey Encounter पर कांग्रेस ने बीजेपी को घेरा, उठाए ये सवाल!

Vikas Dubey Encounter पर कांग्रेस ने बीजेपी को घेरा, उठाए ये सवाल!
Spread the love

भोपाल.  उत्तर प्रदेश का कुख्यात बदमाश विकास दुबे की एनकाउंटर से प्रदेश की राजनीति में भूचाल आ गया है। मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के सभी आला नेता सत्तारूढ़ भाजपा पर हमलावर हैं। दरअसल यूपी से फरार होकर एमपी में सरेंडर करने वाला विकास दुबे आज सुबह कानपुर के पास पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। दोनों राज्य़ों में एक ही पार्टी की सरकार होने के कारण कांग्रेस सत्तारूढ़ भाजपा पर हमलावर है।  यूपी एसटीएफ की इस कारवाई पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘अपराधी का अंत हो गया, अपराध और उसको सरंक्षण देने वाले लोगों का क्या’. इस ट्वीट को पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने भी रीट्वीट किया है।

पटवारी ने आज मीडिया से बात करते हुए, इस एनकाउंटर को लेकर कई सवाल दागे। पूर्व मंत्री ने कहा, जब किसी निजी एंजेंसी के गॉर्ड ने विकास को पकड़ा, तब यहां की सरकार और पुलिस उसे पकड़ने का श्रेय कैसे ले सकती है। मप्र को अपराधियों की शरण स्थली बनाने का आरोप लगाते हुए राऊ विधायक ने कहा कि, कई लोगों की कुर्सी चली जाती, इसलिए इस एनकाउंटर को अंजाम दिया गया। उत्तर प्रदेश सरकार गिर सकती थी, क्योंकि उसके संबंध बीजेपी के कई बड़े नेताओं से थे।

वहीं मध्यप्रदेश कांग्रेस ने भी ट्वीट कर विकास दुबे के एनकाउंटर पर सवाल उठाए हैं। एमपी कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए कहा, कुख्यात अपराधी का एनकाउंटर तो हो गया, — पर अब भी सबसे बड़ा सवाल यही है कि मध्य प्रदेश के किस नेता ने आखिर उसे यहां पर संरक्षण देकर सरेंडर करवाया था..? पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने पूरे मामले को शुरू से ही संदिग्ध करार देते हुए सीबीआई जांच की मांग की। उन्होंने कहा कि, जब विकास ने सरेंडर कर दिया, तब उसपर गोली क्यों चलाई गई। आपको बता दें पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह भी विकास दुबे के सरेंडर पर सवाल उठा चुके हैं।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED