कांग्रेस प्रत्याशियों की मतगणना ट्रेनिंग संपन्न !

Spread the love

भोपाल | मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव की 11 दिसम्बर को होने जा रही मतगणना के पहले कांग्रेस ने अपने सभी प्रत्याशियों को मतगणना की ट्रेनिंग दी.इस दौरान एक्सपर्ट्स ने उन सभी बारीकियों के बारे में बताया जिससे कि गड़बड़ी को रोका जा सके वही कांग्रेस चीफ कमलनाथ ने सभी को मीटिंग की बात इधर उधर नहीं करने की हिदायत भी दी

मध्य प्रदेश विधानसभा के भावी सदस्यों की किस्मत ईवीएम में क़ैद है. सभी को 11 दिसंबर का इंतज़ार है. उस दिन ईवीएम को 3 लेयर सुरक्षा से निकालकर वोट गिने जाएंगे.ऐसे में मतगणना में किसी भी तरीके की गड़बड़ी ना हो, इसके लिए कांग्रेस ने विशेष प्लान बनाया. पीसीसी चीफ कमलनाथ ने पार्टी के सभी प्रत्याशियों को मतगणना की ट्रेनिंग के लिए बुलाया

कांग्रेस ने कुछ लीगल एक्सपर्ट्स इस ट्रेनिंग के लिए बुलाए हैं. प्रत्याशियों को इस ट्रेनिंग में बताया जा रहा है कि कैसे उन्हें मतगणना के दिन सुरक्षा और सावधानी बरतनी है. कैसे गड़बड़ियों को पहचानना और रोकना है पीसीसी द्वारा मतगणना के लिए तैयार किए गए 24 बिंदुओं में अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि मतगणना स्थल पर स्ट्रांग रूम सील है या नहीं, उसकी अच्छे से जांच करे। सबसे पहले डाक वोटों की गिनती होगी। मत पत्रों के बाहरी लिफाफे पर क्यूआर कोड को स्कैन किया जाएगा और कोड रीडर की जांच होगी।

बतादें कि कमलनाथ ने सभी 229 प्रत्याशियों को मतगणना में गड़बड़ी रोकने की ट्रेनिंग के लिए बुलाया..हालांकि करीब 10 प्रत्याशी इसमें शामिल नहीं हुए…जिसमे अरुण यादव, जयवर्धन सिंह, रामनिवास रावत, ओम पटेल और देवेन्द्र पटेल सहित कुछ उम्मीदवारों ने अपनी अनुपस्थिति की अर्ज़ी पहले ही भेज दी थी

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED