आईटी की कार्रवाई पर दिग्विजय ने खड़े किए सवाल !

आईटी की कार्रवाई पर दिग्विजय ने खड़े किए सवाल !
Spread the love

भोपाल | भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को इसका जवाब देना चाहिये कि मध्य प्रदेश सरकार को बिना सूचित किये केन्द्र सरकार की जांच एजेन्सियां प्रदेश में कार्रवाई कैसे कर सकती हैं। दिग्गी ने इस छापेमार कार्रवाई को संघीय ढांचे पर गहरा आघात बताया है.
मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबियों पर तीन दिन से जारी आयकर विभाग की छापेमारी पर पूर्व मुख्यमंत्री और भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने सवाल खड़े किए हैं। राजधानी में अपने चुनाव कार्यालय के उद्घाटन के बाद उन्होंने मीडिया से चर्चा में कहा कि यह कार्रवाई देश की संघीय व्यवस्था पर बड़ा आघात है। केंद्र सरकार की एजेंसियां ऐसी कार्रवाई करने के पहले राज्य सरकार को सूचित करती हैं, यह व्यवस्था है।ऐसी कार्रवाई में 90 दिन तक केंद्रीय एजेंसियां कुछ भी सार्वजनिक नहीं करतीं, लेकिन केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड सीबीडीटी ने कुछ घंटे में ही सब कुछ सार्वजनिक कर दिया।
इतना ही नही दिग्विजय ने अश्विनी शर्मा को भाजपा का कार्यकर्ता बताते हुए कहा कि जिसके यहां छापा पड़ा और करोड़ों रुपए नगद मिले, वह खुद कह रहा है कि मैं भाजपा का समर्थक हूं। देश की जनता सब देख रही है और लोकसभा चुनाव में वह ऐसा करने वालों को सख्त जवाब देगी। वही उन्होंने कहा कि अगर मामा के यहां छापा पड़ता तो इससे ज्यादा पैसे मिलते।
बहरहाल आयकर छापेमारी पर पूरे चुनावी मौसम में सियासत गर्म रहेगी लेकिन देखना होगा कि इसका नतीजों पर क्या असर पड़ता है।

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED