दिग्गी के सामने बाबरिया बेबस, नर्मदा यात्रा के बाद यह जिम्मेदारी संभालेंगे

दिग्गी के सामने बाबरिया बेबस, नर्मदा यात्रा के बाद यह जिम्मेदारी संभालेंगे
Spread the love

भोपाल : प्रदेश कांग्रेस के चाणक्य और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की नर्मदा परिक्रमा यात्रा अंतिम पड़ाव पर है. नर्मदा यात्रा के बाद दिग्गी प्रदेश की राजनीति में धमाकेदार एंट्री करने वाले है और मिशन 2018 के मद्देनजर वे अहम रोल में भी नजर आ सकते है. कहा जा रहा है कि नर्मदा यात्रा के बाद दिग्गी प्रदेश कांग्रेस की आर्थिक हालत सुधारने के लिए फंड जुटाने का काम करेंगे.

प्रदेश प्रभारी बाबरिया ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि चुनाव से पहले पार्टी को फंड की जरुरत है और इसे जुटाने के लिए टिकट की दावेदारी के लिए पचास हजार रुपए लेने का फैसला हुआ था. लेकिन इस मामले में उठे विरोध के बाद ये फैसला वापस ले लिया गया. साथ ही साथ उन्होंने यह भी बतया कि अजय सिंह और दिग्विजय सिंह समेत तीन सीनियर लीडर की आपत्ति के बाद जमा राशि वापिस लौटाने का फैसला हुआ है. सीनियर लीडर ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि चुनाव के पहले वो पार्टी फंड जुटाने का काम कर लेंगे और नर्मदा यात्रा खत्म होने के बाद पार्टी के लिए फंड जुटाने की जिम्मेदारी दिग्विजय सिंह खुद अपने कंधों पर लेंगे.

टिकट के बदले 50 हजार का फरमान वापस लेने के बाद न सिर्फ बाबरिया की बेबसी सामने आई है बल्कि एक बार फिर ये साबित हो गया कि भले ही कांग्रेस युवा और नए चेहरे हे दम पर चुनाव लड़ने की बात कह रही हो, लेकिन कांग्रेस में अभी भी सीनियर नेताओं का रसूख बरक़रार है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED