दिग्विजय सिंह ने खटखटाया राष्ट्रपति का दरवाजा, खत लिखकर की ये मांग!

दिग्विजय सिंह ने खटखटाया राष्ट्रपति का दरवाजा, खत लिखकर की ये मांग!
Spread the love

भोपाल . बिहार, कर्नाटक, गोवा, मणिपुर, एमपी और राजस्थान जैसे राज्यों में एक समान समस्या से जुझ रही कांग्रेस ने अब देश के राष्ट्रपति का दरवाजा खटखटाया है। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने बीते कुछ समय में विभिन्न राज्यों में विधायकों के दल – बदल को  लेकर सवाल उठाया है। पूर्व मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लिखे खत में उनसे दल-बदल कानून में प्रभावी संशोधन करने की मांग की है। उनका मानना है कि वर्तमान में जिस तरह विधायक पैसे के लोभ – लालच में आकर अपना दल बदल रहें, उसने लोकतंत्र को दागदार बना दिया है।

निजी स्वार्थ के चक्कर में जनप्रतिनिधियों द्वारा उठाया जा रहा यह कदम लोकतंत्र को कमजोर कर रहा है। इसके अलावा दिग्गी राजा ने एक विडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि मौजूदा परिस्थिति को देखते हुए इस मुद्दे पर एक सर्वदलीय बैठक बुलाना चाहिए और ऐसे जनप्रतिनिधियों को छह साल तक कोई चुनाव नहीं लड़ने देना चाहिए। दिग्विजय सिंह ने परोक्ष रूप से बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज जिस तरह से जनमत के विरूध्द सरकारें बन रही है, वो लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ है।

आपको बता दें मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद से कई राज्यों में कांग्रेस की सरकारें संख्याबल होने के बावजूद या तो बन नहीं पाईं या गिर गईं। सबसे ताजा उदाहरण मध्य प्रदेश का है। इन सभी राज्यों में बड़ी संख्या में कांग्रेस विधायकों ने चुनाव जीतने के बाद अपनी निष्ठा बदली है। कांग्रेस को लगता है कि ये नेता बीजेपी के धनबल और सत्ताबल के लालसा में ऐसे कदम उठा रही है। हालिया दिनों में पड़ोस के राजस्थान में भी कांग्रेस सरकार इसी संकट से गुजर रही है, जहां उसके करीब 20 विधायक बागी हो चुके हैं।

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED