छिंदवाड़ा में शिक्षा व्यवस्था बदहाल, स्कूल से शिक्षक गायब, बच्चे कर रहे सफाई!

Spread the love

छिंदवाड़ा: एकतरफ मुख्यमंत्री कमलनाथ छिन्दवाड़ा जिले को मॉडल जिला बताते हैं और शिक्षा के क्षेत्र में एक अग्रणी जिला बोलने से नही चूकते लेकिन इस जिले की हकीकत कुछ और ही बयां करती है.  मुख्यमंत्री कमलनाथ अक्सर अपने गृह जिले छिंदवाड़ा की तारीफ सार्वजनिक मंचों से करते हुए पाए जाते हैं। लेकिन उनके इन दावों की पोल जिले की परासिया विधानसभा के ग्राम पंचायत दरबई गाँव मे शासकीय स्कूल की बदतर हालत खोलती है।

अधिकांश समय स्कूल से शिक्षक नदारद पाए जाते हैं। स्कूल में पढ़ाने के बजाय शिक्षक अपने निजी कोचिंग क्लासेस में व्यस्त रहते हैं। स्कूली छात्राओं से जब इस मामले में पूछा गया तो उन्होंने सारी व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी। साथ ही बच्चों ने शिक्षकों पर अन्य काम करवाने का आरोप भी लगाया । वहीं वीआरसी संतोष डेहरिया ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी और दोषी शिक्षकों के विरूध्द उपयुक्त विभागीय कारवाई की जाएगी। कुल मिलाकर शिक्षा के मामले में  मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने गृह जिले  के लाख दावे करें लेकिन ज़मीनी हकीकत कुछ और ही बया करती है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED