चुनावी आचार सहिता अक्टूबर के पहले हफ्ते

Spread the love

भोपाल. मध्य प्रदेश में 230 सीटों पर विधानसभा चुनाव होने हैं और इसके साथ छत्तीसगढ़,राजस्थान और मिजोराम में भी होंगे.सभी पार्टी अपनी पूरी तैयारी कर रही हैं वही चुनाव आयोग ने भी अपनी पूरी तैयारी कर ली हैं. दूसरी ओर आचार सहिता के लिए आयोगों की बैठको का दौर जारी हैं. चुकी इस बार सभी त्यौहार लगे लगे आ रहे हैं ओर चुनाव 26-30 नवंबर के बीच होने की आशंका जताई जा रही हैं. त्यौहारों के चलते 4 से 6 अक्टूबर के बीच आचार संहिता लगाई जा सकती है. क्योंकि दिवाली (7 नवंबर) और ईद (21 नवंबर) पड़ रही है, ऐसे में त्यौहारों की वजह से कोई वोटर्स प्रभावित ना हो, इसके लिए ये तारीखे अनूकूल बताई जा रही है. वही राजनैतिक दलों द्वारा आचार संहिता की तारीख बढ़ाने की बात कही गई है, हालांकि अभी तक इस पर आयोग ने कोई एक्शन नही लिया है.

चुनाव के साथ आयोग ने प्रदेश में बेहिसाब खर्चा होने का अनुमान लगाया हैं. आयोग का मानना है की प्रदेश आर्थिक नगरी हैं ओर चुनाव के दौरान यहा पैसे बहुत खर्च हो जायेंगे. आयोग द्वारा संभवत: अक्टूबर प्रथम सप्ताह में चुनावी आचार संहिता लगाई जाएगी और इसके बाद ही प्रशासन चुनाव खर्च पर नजर रख सकेगा. आचार संहिता के दौरान भी अक्टूबर में नवरात्रि, दशहरा के कई आयोजन ऐसे हैं, जो पारंपरिक रूप से किसी न किसी राजनेता के नाम से प्रसिद्ध हैं.

पिछले विधानसभा चुनाव में आयोग ने 4 अक्टूबर 2013 को चुनावी कार्यक्रम जारी किया था.  इन्हीं तिथियों के आसपास इस बार भी आचार संहिता लगने की संभावना है.  वोटिंग भी 26 से 30 नवंबर के बीच होने के अनुमान हैं.  अक्टूबर के आखिरी हफ्ते में अधिसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन भरने का काम शुरू हो जाएगा.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED