शिक्षकों को कोरोना योध्दा घोषित करे सरकार, शिक्षक संघ ने की मांग !

शिक्षकों को कोरोना योध्दा घोषित करे सरकार, शिक्षक संघ ने की मांग !
Spread the love

भोपाल –  प्रदेश में कोरोना के चलते जनजीवन अस्तव्यस्त है।  सरकारी काम भी बेपटरी हो गए हैं। इसका असर राज्य की शिक्षा व्यवस्था पड़ भी पड़ा रहा है। करीब तीन माह से प्रदेश के सभी शिक्षन संस्थान बंद पड़े हुए हैं। कॉलेजों की परीक्षाएं रूकी हुई हैं। एकबार तारीख निकालकर सरकार को पुनः अपने कदम पीछे खींचने पड़े । हालांकि 10वी-12वी की बची हुई परीक्षाएं अब संपन्न हो गई है । लेकिन अब सरकार के सामने उनका मूल्यांकन करवाना सरदर्द बन गया है।

दरअसल कोरोना संक्रमण की तेज रफ्तार को देखते हुए शिक्षकों ने मांग की है कि उन्हें घर पर रह कर ही  मूल्यांकन करने की अनुमति दी जाए।  ऐसी ही मांगो को लेकर उच्च माध्यमिक शिक्षक संघ एवं समग्र शिक्षक व्याख्याता एवं प्राचार्य कल्याण संघ द्वारा गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को एक ज्ञापन सौंपा गया। समग्र शिक्षक व्याख्याता कल्याण संघ के प्रदेश अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने बताया कि परीक्षा केंद्र पर आने वाली कॉपियां विभिन्न जगहों से विभिन्न लोगों के हाथों से गुजर कर पहुंचती है। ऐसे में वायरस के संक्रमण का डर बना रहता है।

उन्होंने कहा कि उन्हें काम करने में कोई दिक्कत नहीं है, मगर सरकार को स्वास्थय एवं गृह विभाग की तरह शिक्षा कर्मियों को भी कोरोना योध्दा घोषित करना चाहिए। ताकि वायरस के संक्रमण के चपेट में आने के बाद उन्हें मुआवजा मिल सके। वरना ऐसी परिस्थितियों में काम करना मुश्किल होगा।

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED