गुना में भड़की आदिवासी हिंसा, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

गुना में भड़की आदिवासी हिंसा, पुलिस ने किया लाठीचार्ज
Spread the love

भोपाल : गुना जिले में सहरिया समुदाय के लोग ने हिंसा कर दी. एक मामले के विरोध को लेकर करीब 37 गांवों के आदिवासियों ने पुलिस थाने का घेराव कर दिया. इस दौरान हिंसा भड़क गई और प्रदर्शनकारियों ने पथराव और गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी. हिंसा बढ़ते देख पुलिस ने हालात को काबू करने के लिए लाठचार्ज और आंसू गैस के गोले दागे.

जानकारी के मुताबिक गुना जिले के रुठियाई पुलिस चौकी इलाके में एक दिन पहले कथित तौर पर महिला को एक व्यक्ति के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़ा था. इसके बाद से ग्रामीण दोनों का सार्वजनिक रूप से जुलूस निकालने की बात पर अड़े हुए हैं. वहीं इस मामले में महिला का कहना है कि उसके साथ कोई ज्यादती या गलत काम नहीं हुआ है.

महिला के इस बयान के बाद ही आदिवासियों में आक्रोश फैल गया. 37 गांवों के आदिवासियों ने इस मुद्दे पर रुठियाई पुलिस चौकी का घेराव कर दिया. आदिवासियों की मांग थी कि महिला और उसके साथ पकड़े गए पुरुष के खिलाफ कार्रवाई की जाए.

पुलिस की काफी समझाइश के बाद भी आदिवासी धरना देने की बात पर अड़े रहे. पुलिसकर्मियों ने आदिवासियों को हटाने की कोशिश की तो हालात बिगड़ गए. इस दौरान अचानक पथराव शुरू हो गया. आरोप है कि प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों में भी तोड़फोड़ कर दी. इसके बाद पुलिस ने उन्हें खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज कर दिया. हालात फिर भी काबू में नहीं आए तो पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे. हालात पर काबू पाने के लिए सात थानों की पुलिस फ़ोर्स और अतिरिक्त बल सहित करीब 400 पुलिसकर्मियों का दल मौके पर मौजूद है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED