एमपी की ये पंचायत से सीखिए पानी का मैनेजमेंट, 30 पैसे लीटर में RO का पानी 

एमपी की ये पंचायत से सीखिए पानी का मैनेजमेंट,  30 पैसे लीटर में RO का पानी 
Spread the love

इंदौर। शुध्द पेयजल की आपूर्ति ग्रामीण क्षेत्र की स्थाई समस्या है। इसके समाधान के लिए सरकार और स्थानीय स्तर पर किए जाने वाले प्रयास नाकाफी ही साबित होते रहे है। सांवेर तहसील के चंद्रावती गंज मंडी से लगी ग्राम पंचायत बुढानियां पंत ने इस दिशा में अनुकरणीय पहल करते हुए समस्या का स्थाई निदान निकालने का काम किया है। जिले की पहली ऐसी पंचायत है जहां स्वयं के स्तर पर वाटर एटीएम की स्थापना की गई है। पंचायत ने एसजीएस पिरामल कंपनी के सहयोग से आठ लाख रुपए की लागत से यह प्लांट स्थापित किया है। इस प्लांट से पंचायत के नागरिकों को महज 30 पैसे प्रति लीटर में आरओ का पानी उपलब्ध होगा। बुधवार को एक समारोह पूर्वक इस प्लांट का उद्घाटन हुआ जिसमे बड़ी संख्या में क्षेत्रिय नागरिक शामिल थे।

बड़ी आबादी को मिलेगा लाभ

बुढानिया पंचायत चंद्रवतीगंज से लगी हुई है। मंडी होने के कारण बड़ी संख्या में ग्रामीणों और किसानों का आना जाना लगा रहता है। जिस स्थान पर प्लांट लगाया गया है वह क्षेत्र के बस स्टेंड से लगा हुआ है। इस प्लांट के लगने से ना केवल नागरिकों को बल्कि बाहर से आने वाले यात्रियों को भी शुध्द पेयजल नाम मात्र के शुल्क पर उपलब्ध हो सकेंगा।

क्षेत्र की बड़ी समस्या का हुआ निराकरण 

बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल के लिए कुएं बावड़ी या बोरिंग जैसे साधन पर ही लोगों को निर्भर रहना पड़ता है। गर्मियों में यह साधन भी दम तोड़ने लगते है। गर्मी और बारिश में जल जनित बिमारियां हमेशा चिंता का सबब बनी रहती थी। शुध्द पानी के प्रबंध के लिए काफी समय से विचार चल रहा था। एसजीएस कंपनी के सहयोग से प्रयास सफल हुए अब दुषित पानी से होने वाली बिमारियों से भी लोगों को निजात मिलेंगी। नाम मात्र का शुल्क इसलिए रखा गया है ताकि कर्मचारी का वेतन और बिजली का खर्च निकल जाए।

नेक काम के लिए घर दे दिया

आरओ प्लांट लगाने का फैसला करने के बाद पंचायत के सामने समस्या स्थान की खड़ी हो गई। कई दिनों तक स्थान की खोजबीन चलती रही ऐसे में समाजसेवी रतनलाल महेश्वरी आगे आए और बस स्टेंड क्षेत्र में स्थित अपना निवास देने की बात कही। उनकी इस पेशकश ने पंचायत की बड़ी चिंता को दूर कर दिया। महेश्वरी ने सिर्फ घर ही नहीं दिया बल्कि अपने घर के बोरिंग से प्लांट का कनेक्शन भी जोड़ने की मंजूरी दे दी।

हर पंचायत में हो यह सुविधा

जिला पंचायत सदस्य सोनु देसाई और जनपद सांवेर के सदस्य गजेंद्र भदौरिया ने कहा कि बुढ़ानिया पंचायत ने जिले की अन्य पंचायतों के सामने एक मिसाल पेश की है। जिला पंचायत और जनपद के स्तर पर प्रयास किए जाएंगे कि हर पंचायत में इसी प्रकार के प्लांट स्थापित हो ताकि लोगों को शुध्द पेयजल उपलब्ध हो सके।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED