इंदौर जिला कोर्ट के नए भवन का लोकार्पण, ताई बोली- तारीख पे तारीख नहीं चलेगी !

Spread the love

करीब तीन साल से चली आ रही खींचतान के बाद आखिरकार शहर के नए और भव्य जिला कोर्ट भवन का शिलान्यास हुआ… शुभारंभ कार्यक्रम में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरूण मिश्रा मुख्य और मध्यप्रदेश हाई कोर्ट जस्टिस हेमंत गुप्ता मौजूद अथिति रहे..इस मौके पर उन्होंने कहा कि न्यायालय ना तो जजों के लिए और ना ही वकीलों के लिए है…न्यायालय देश की आम जनता के लिए है…जस्टिस मिश्रा ने कहा कि बदलते दौर के साथ ही न्यायपालिका में भी चिंतन की जरूरत है… उन्होंने कहा कि ग्लोबलाइजेशन के दौर में रियल स्टेट और सायबर अपराधों में बढ़ोत्तरी हो रही है…ऐसे में गरीबों को उनका हक कैसे मिले इसके लिए काम करना जरूरी है…साथ ही नये वकीलों को सीख देते हुए जस्टिस अरूण मिश्रा ने यह भी कहा आने वाले वक्त में चिंतन नहीं किया गया तो लोगों का न्यायपालिका से भरोसा उठ जाएगा।

इस मौके पर लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन भी मौजूद रहीं…उन्होंने कहा कि जिस तरह से शहर बढ़ रहा है उसे देखते हुए आने वाले वर्षों की आवश्यकता अनुसार नई कोर्ट बिल्डिंग आवश्यक थी…उन्होंने हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस हेमंत गुप्ता का इस बात के लिए आभार माना…ताई ने कहा पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन कभी कभी पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन बन जाती है…इस दौरान ताई ने कहा कि तारीख पर पर तारीख नहीं बढ़नी चाहिए…
वही मध्यप्रदेश लोकनिर्माण मंत्री रामपाल सिंह ने जिला कोर्ट के नए भवन का मुद्दा विधानसभा सत्र में उठा उसका जिक्र किया…

इस मौके पर इंदौर कलेक्टर निशांत वरवड़े…डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्रा….सहित जिला प्रशासन और पुलिस महकमे के कई अधिकारी मौजूद थे… 30 महीने में पहले दौर का काम पूरा हो जाएगा। 169 कोर्ट रूम बनाए जाएंगे। 411 करोड़ रुपए में यह काम होगा। नया परिसर हरियाली से भरा होगा। बारिश की एक-एक बूंद को जमीन के भीतर उतारने का सिस्टम बिल्डिंग के चारों तरफ रहेगा..नई बिल्डिंग सेंट्रल इंडिया की सबसे बेहतरीन बिल्डिंग होगी। ऐसा पहली बार हो रहा है, जब वकीलों के 800 चैंबर भी हाई कोर्ट प्रशासन द्वारा बनाए जा रहे हैं। एक ही परिसर में सारी व्यवस्थाओं को जुटाया जाएगा।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED