जयभान सिंह पवैया का छलका दर्द, बोले आखिर कब तक अपने हिस्से का प्यार लूटाते रहे!

जयभान सिंह पवैया का छलका दर्द, बोले आखिर कब तक अपने हिस्से का प्यार लूटाते रहे!
Spread the love

ग्वालियर . मध्य प्रदेश में विगत कुछ महीनों में राजनीतिक पासा ऐसा पलटा है कि नेता अब अपने ही घर में बेगाने जैसा महसूस करने लगे हैं। जी हां मध्य प्रदेश के कई भाजपा नेताओं का यही हाल है। बीजेपी भले राज्य में मात्र 15 माह के बाद सत्ता में लौट आई हो, मगर उसके कुछ कद्दावरों नेताओं के हिस्से में खुशी के बजाय निराशा ही आई है। दरअसल सिंधिया समर्थक नेताओं के शिवराज सरकार में बढ़ते दबदबे को देखते हुए कुछ भाजपाई दिग्गज बेहद निराश हैं। समय – समय पर इनका दर्द छलक कर बाहर भी आता है।

बीजेपी के नाराज नेताओं की सूची में ग्वालियर के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया भी हैं। पवैया इन दिनों अपने ट्वीट को लेकर सुर्खीयों में हैं। एकबार फिर उन्होंने ट्वीट के जरिए अपना दर्द बयां किया है। पूर्व मंत्री ने कांग्रेस की अध्यक्षा सोनिया गांधी को नसीहत देते हुए कहा, ‘हे काँग्रेस की राजमाता ! अपने कुनबे को सम्हालिये ना ! आखिर आपकी रूठी हुई राजनीतिक संतानो को हम अपनो के हिस्से का कितना प्यार लुटाते रहेंगे ? यदि नहीं सम्हलता तो किसी दिवालिया फर्म की तरह कांग्रेस प्रायवेट लि. का शटर डाउन क्यों नहीं कर देतीं ?आप और देश दोनो ही शुकून में रहेंगे। इस ट्वीट के जरिए उन्होंने कांग्रेस पर तो निशाना साधा है, साथ ही अपनी पार्टी पर भी तंज कस।

आपको बता दें इससे पहले जयभान पवैया अपने एक ट्विट को लेकर सुर्खीयों में आई थे। बीते दिनों उन्होंने सिंधिया समर्थक मंत्रियों पर निशाना साधते हुए कहा था, मध्यप्रदेश के नए मंत्री गण जब ग्वालियर आये तो वीरांगना लक्ष्मी बाई की समाधी पर दो फूल चढ़ाने क्यों नहीं गए ? याद रखें यह प्रजातंत्र और मंत्री परिषद शहीदों के लहू से ही उपजे है इतना तो बनता है। दरअसल पवैया 2018 में प्रद्युम्न सिंह तोमर  के हाथों चुनाव हार गए थे। सिंधिया समर्थक तोमर अब भाजपा सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। भाजपा नेता इसी बात को पचा नहीं पा रहे हैं।

– By Krishna

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED