ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ठोकी ताल, कहा अब हम संभालेंगे प्रदेश अध्यक्ष की कमान – सूत्र!

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ठोकी ताल, कहा अब हम संभालेंगे प्रदेश अध्यक्ष की कमान – सूत्र!
Spread the love

दिल्ली | प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर घमासान तेज़ हो गया है. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शनिवार दिल्ली में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाक़ात की.. इस बीच सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पीसीसी चीफ पद के लिए अपनी दावेदारी पेश कर दी है.

कौन होगा प्रदेश कांग्रेस का नया कप्तान…. ? किसे मिलेगी प्रदेश की कमान ? …..यह वो पहेली है जो बीते कई दिनों से अनसुलझी है….और इस पहेली ने न केवल MP की सियासत में बल्कि दिल्ली दरबार में भी दिलों की धड़कने बड़ा दी है…एक और PCC चीफ की दौड़ में सीएम कमलनाथ की पसंद है ..तो दूसरी और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्वविजय की सियासी चाल है…तो वही सीएम इन वेटिंग यानी प्रदेश की राजनीती के महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया खुद ताल ठोक रहे है….

 

वहीं सीएम कमलनाथ ने इस घमासान के बाद पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाक़ात की है…..वही MP के विश्वसनीय सूत्रों की माने तो इस सब के बिच ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पीसीसी चीफ पद के लिए अपनी दावेदारी ठोक दी है.कयास लगाए जा रहे है की प्रदेश कांग्रेस कप्तान के सवाल से अगले चंद घंटो में पर्दा उठ जायेगा..वही भोपाल से लेकर दिल्ली तक हलचल तेज हो गई….एक के बाद एक नेताओं की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है..कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह के बाद अब खेल मंत्री जीतू पटवारी का बयान सामने आया है…मंत्री जीतू पटवारी का कहना है कि जो अध्यक्ष बनेगा वो सभी नेताओं और कार्यकर्त्ताओं की पसंद होगा। वही उन्होंने सिंधिया की नाराजगी को लेकर कहा कि वो भी परिवार के सदस्य सबको अपनी भावना व्यक्त करने का अधिकार है..

वही इस कड़ी में कैबिनेट मंत्री डॉ गोविन्द सिंह का बड़ा बयान सामने आया है।गोविंद सिंह ने सिंधिया को प्रदेश की कमान सौंपने की वकालत की है।गोविंद सिंह का कहना है कि सिंधिया प्रदेशाध्यक्ष बनेंगे तो बेहतर कमान संभाल सकेंगे… सोनिया गांधी जी जिसको अध्यक्ष बनाएगी उनका हम स्वागत करेंगे…सोनिया जी हमारी नेता हैं उनके फैसले का स्वागत करूँ
कुल मिलाकर , प्रदेश में सिंधिया को सूबे की कमान देने के लिए मांग तेज हो गई है अब ऐसे में देखना दिलचल्प होगा की क्या आलाकमान सिंधिया के नाम पर मुहर लगता है या फिर एक बार फिर सिंधिया प्रदेश अध्यक्ष के सिहांसन से दूर रह जाते है…

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED