ज्योतिरादित्य सिंधिया का शाही अंदाज, दशहरा पर निभाई राजघराने की परंपरा।

Spread the love

राजशाही भले ही खत्म हो गई हो लेकिन राजघरानों की परम्परा आज भी जिन्दा है जिसका प्रमाण मिलता है ग्वालियर में, जहाँ आज भी सिंधिया राजवंश प्रमुख दशहरे पर शमी पूजन करते हैं और जनता को शुभकामनायें देते हैं।  सिंधिया राजपरिवार के मुखिया ज्योतिरादित्य सिंधिया आज राजनीति वाली पोशाक की जगह राजशाही पोशाक पहने हुए थे। सर पर पगड़ी, शाही शेरवानी और हाथ में तलवार लिए वे राजा ही लग रहे थे। सिंधिया दशहरे पर होने वाले पारंपरिक शमी पूजन के लिए ग्वालियर आये थे।

दशहरे के दिन ज्योतिरादित्य सिंधिया मांडरे की माता के नीचे स्थित चबूतरे पर पहुंचे। यहाँ पहले से मौजूद मराठा सरदारों ने पारंपरिक ढंग से उन्हें कोर्निश किया। उसके बाद राज पुरोहितों ने सिंधिया से शमी के पेड़ का पूजन कराया।  शमी के पेड़ के पूजन के बाद सिंधिया ने परंपरा के अनुसार जैसे ही तलवार की नोक से पेड़ की पत्तियों को छुआ वैसे ही जनता शमी के पेड़ की पत्तियां लूटने उमड़ पड़ी । उसके बाद सिंधिया ने सभी को दशहरे की बधाई दी। मीडिया से संक्षिप्त बातचीत में उन्होंने कहा कि जनता बदलाव चाहती है और वो इस चुनाव में जरुर बदलाव लाएगी

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED