कैलाश विजयवर्गीय ने ‘आर्टिकल 30’ को लेकर कही यह बात

कैलाश विजयवर्गीय ने  ‘आर्टिकल 30’ को लेकर कही यह बात
Spread the love

इंदौर – अपने बयानों के लिए मशहूर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ‘आर्टिकल 30’ पर एक बड़ा बयान देकर सियासी हलचल पैदा कर दी है। भाजपा नेता ने ट्वीट करते हुए ‘आर्टिकल 30’ के प्रासंगिता पर सवाल उठाए हैं।

विजयवर्गीय ने ट्वीट करते हुए लिखा कि देश में संवैधानिक समानता के अधिकार को ‘आर्टिकल 30’ सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचा रहा है।ये अल्पसंख्यकों को धार्मिक प्रचार और धर्म शिक्षा की इजाजत देता है, जो दूसरे धर्मों को नहीं मिलती। जब हमारा देश धर्मनिरपेक्षता का पक्षधर है, तो ‘आर्टिकल 30’ की क्या जरुरत।

दरअसल ‘आर्टिकल 30’ किसी भी धर्म या भाषा के अल्पसंख्यकों को शैक्षणिक संस्थान स्थापित करने और उन्हें चलाने का अधिकार देता है। ऐसे में कैलाश विजयवर्गीय का यह बयान काफी मायने रखता है। आपको बता दें कि संघ परिवार शुरू से ही आरोप लगाता आया है कि  ‘आर्टिकल 30’ का दुरूपयोग हिंदुओं का धर्म परिवर्तन करवाने में किया जा रहा है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED