कमलनाथ का डैमेज कंट्रोल -संघ और धार्मिक मुद्दों पर न बोलें कांग्रेसी नेता !

Spread the love

भोपाल | मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए एक और जनता नेताओं के चाल चरित्र और चेहरे का विश्लेषण कर रही यही तो दुसरो और दोनों हो पार्टिया इस सियासी शतरंज में अपनी बिसात बिछा रही है वही …साथ ही इस चुनाव में कांग्रेस अपने राजनितिक वनवास को पूरा कर सत्ता वापसी का दम्भ भर रही है…वही कांग्रेस अपने मैनिफेस्टो में संघ की शाखाओं पर बैन लगाने के मामले में मचे बवाल के बाद डैमेज कंट्रोल में जुट गयी है …इसी के चलते कमलअंएक चिट्ठी वायरल हुई है जिसमें उन्होंने कांग्रेस नेताओं को संघ, राष्ट्रीय मुद्दों और अन्य कई मुद्दों पर बोलने से पहले नसीहत दी है.
कमलनाथ की इस चिट्ठी में लिखा है कि कांग्रेस नेता धार्मिक और राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर टिप्पणी न करें साथ ही न्यायालय में लंबित मामलों पर किस प्रकार की टिप्पणी से बचें. इसके अलावा प्रतिद्वंद्वी नेताओं पर अपमानजनक टिप्पणी से भी परहेज़ करें, बिना प्रमाण आरोप ना लगाएं. कमलनाथ ने चिट्ठी में यह भी लिखा है कि कांग्रेस भारतीय संविधान, सर्वोच्च न्यायालय और चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन करती है और मुझे आशा है कि कांग्रेस कार्यकर्ता इन निर्देशों का पूरी तरह पालन करेंगे.

हालांकि इस चिट्ठी पर अभी तक किसी भी कांग्रेस नेता का बयान सामने नहीं आया है. यह चिट्ठी दिवाली की बताई जा रही है. इससे पहले कमलनाथ के वायरल वीडियो पर भी बवाल मचा था जब उन्होंने प्रत्याशियों के बारे में टिप्पणी की थी,कुल मिलाकर संघ पर दिए गए वचन नें कोंग्रस की मुसीबतें बड़ा दी ही,अब पूरी पार्टी इस मामले में डैमेज कण्ट्रोल में लगी हुई है वही राजनतिक पंडितो की माने तो कांग्रेस की इस चुनाव की सबसे बड़ी गलती के तौर पर देख रही है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED