इंदौर में टिकटों का कमलनाथ फार्मूला !

Spread the love

भोपाल | मध्यप्रदेश में टिकटों की टिक टिक हुई खत्म,बीजेपी के बाद अब कांग्रेस ने भी अपने पत्ते खोल दिए है.कांग्रेस ने शनिवार को उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. इसमें प्रदेश के विधानसभा क्षेत्रों के लिए 155 नामों की घोषणा की गई है. प्रदेश कांग्रेस कमिटी (पीसीसी) चीफ कमलनाथ, इलेक्शन कैंपेन कमिटी के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की.

इंदौर की कुल 9 विधानसभा सीटों में से 4 पर मुहर लगा दी है वही बाकि 5 सीटों पर अभी भी मंथन जारी है ..आइये जानिए इंदौर में बड़े नेताओ के लिहाज से कौन-किससे जुड़ा है और वही संतुलन के लिहाज़ से कांग्रेस की तिकड़ी में सामंजस्य नजर आ रहा है.इस सामंजस्य के पीछे कमलनाथ की सफलता मानी जा रही है,यदि हम इंदौर में टिकटों का कमलनाथ फार्मूला कहें तो गलत नहीं होगा.

तीन नंबर – अश्विन जोशी – ज्योतिरादित्य सिंधिया
राऊ – जीतू पटवारी – दिग्विजय सिंह,कमलनाथ
महू – अंतरसिंह दरबार – दिग्विजय सिंह
सांवेर – तुलसी सिलावट – ज्योतिरादित्य सिंधिया

आइये जानते है इनके राजनितिक अनुभव और कुछ रोचक तथ्यों के बारे में.

अश्विन जोशी – इंदौर विधानसभा क्षेत्र 3 से एक बार फिर कांग्रेस ने इन्हें टिकट दिया है ये 58 साल के हैं इन्होंने एमए तक की शिक्षा ग्रहण की है पिछले चुनाव में बीजपी की उषा ठाकुर से हार गए थे

जीतू पटवारी – राऊ विधानसभा क्षेत्र से इसबार भी कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। 44 वर्षीय जीतू पटवारी 1994 में बीए और 1997 में एलएलबी की शिक्षा ग्रहण की है अभी इनके पास 13 करोड़ की संपत्ति है पिछले चुनाव में बीजेपी के जीतू जिराती का हराया था,जबकि 2008 में ये बीजेपी के जीतू जिराती से हार गए थे अभी कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष हैं

अंतर सिंह दरबार – महू से फिर मिला कांग्रेस का टिकट,63 साल के हैं शिक्षा ग्रेजुएशन तक है पिछले चुनाव में बीजेपी के कैलाश विजयवर्गीय से हार गए थे दो बार महू से कांग्रेस विधायक रह चुके हैं

तुलसी सिलावट – सांवेर से कांग्रेस से फिर टिकट मिला,सांवेर अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट है सिलावट 63 साल के हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया के विश्वस्त माने जाते हैं, 1998 और 2008 में दो बार कांग्रेस के विधायक रह चुके हैं,पिछले चुनाव में बीजेपी के राजेश सोनकर से हार गए थे

मध्यप्रदेश में टिकटों की टिक टिक हुई खत्म,बीजेपी के बाद अब कांग्रेस ने भी अपने पत्ते खोल दिए है.. कांग्रेस ने शनिवार को उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. इसमें प्रदेश के विधानसभा क्षेत्रों के लिए 155 नामों की घोषणा की गई है. प्रदेश कांग्रेस कमिटी (पीसीसी) चीफ कमलनाथ, इलेक्शन कैंपेन कमिटी के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की.

इंदौर की कुल 9 विधानसभा सीटों में से 4 पर मुहर लगा दी है वही बाकि 5 सीटों पर अभी भी मंथन जारी है ..आइये जानिए इंदौर में बड़े नेताओ के लिहाज से कौन-किससे जुड़ा है और वही संतुलन के लिहाज़ से कांग्रेस की तिकड़ी में सामंजस्य नजर आ रहा है.

तीन नंबर – अश्विन जोशी – ज्योतिरादित्य सिंधिया
राऊ – जीतू पटवारी – दिग्विजय सिंह,कमलनाथ
महू – अंतरसिंह दरबार – दिग्विजय सिंह
सांवेर – तुलसी सिलावट – ज्योतिरादित्य सिंधिया

आइये जानते है इनके राजनितिक अनुभव और कुछ रोचक तथ्यों के बारे में.

अश्विन जोशी – इंदौर विधानसभा क्षेत्र 3 से एक बार फिर कांग्रेस ने इन्हें टिकट दिया है ये 58 साल के हैं इन्होंने एमए तक की शिक्षा ग्रहण की है पिछले चुनाव में बीजपी की उषा ठाकुर से हार गए थे

जीतू पटवारी – राऊ विधानसभा क्षेत्र से इसबार भी कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। 44 वर्षीय जीतू पटवारी 1994 में बीए और 1997 में एलएलबी की शिक्षा ग्रहण की है अभी इनके पास 13 करोड़ की संपत्ति है पिछले चुनाव में बीजेपी के जीतू जिराती का हराया था,जबकि 2008 में ये बीजेपी के जीतू जिराती से हार गए थे अभी कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष हैं

अंतर सिंह दरबार – महू से फिर मिला कांग्रेस का टिकट,63 साल के हैं शिक्षा ग्रेजुएशन तक है पिछले चुनाव में बीजेपी के कैलाश विजयवर्गीय से हार गए थे दो बार महू से कांग्रेस विधायक रह चुके हैं

तुलसी सिलावट – सांवेर से कांग्रेस से फिर टिकट मिला,सांवेर अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट है सिलावट 63 साल के हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया के विश्वस्त माने जाते हैं, 1998 और 2008 में दो बार कांग्रेस के विधायक रह चुके हैं,पिछले चुनाव में बीजेपी के राजेश सोनकर से हार गए थे

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED