कमलनाथ अपनी संभावित पराजय से बोलखा गए – शिवराज सिंह

Spread the love

भोपाल – नाच न जाने आँगन टेढ़ा……संभालना आ नहीं रहा…स्तिथि संभल नहीं रही और कर्मचारियों पर लठ चला रहे है …कर्मचारियों को आतंकित करने की राजनीती चलाई जा रही है …. यह कहना यह सूबे के पूर्व सीएम शिवराज का ….आइये आपको बताते उनके इस बयान के पीछे की पूरी कहानी ….
अघोषित बिजली कटौती मामले में कर्मचारियों को ससपेंड करने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार को आड़े हाथ लिया है ..दरअसल शिवराज ने मिडिया से चर्चा के दौरान कहा… मुख्यमंत्री कमलनाथ अपनी संभावित पराजय से बोलखा गए है ….सरकार खुद नहीं संभाल पा रहे …शर्म आना चाहिए ऐसे मंत्रियो को जो भाजपा पर षड्यंत्र आ आरोप लगा रहे है …
तो वही शिवराज सिंह ने कमलनाथ सरकार पर कर्मचारियों को आतंकित करने का आरोप लागते हुए कहा स्तिथि संभल नहीं रही और कर्मचारियों पर लठ चला रहे है..शिवराज यही नहीं रुके उन्होंने तो यहाँ तक कह डाला …अगर कांग्रेस ठीक से सत्त्ता नहीं चला पा रही है तो कुर्सी खाली करे….
आपको बता दे की चुनाव के ऐन मौके पर प्रदेश में हो रही अघोषित बिजली को लेकर कमलनाथ सरकार ने कर्मचारियों पर बड़ी कार्रवाई की.है …..दरअसल इंदौर-उज्जैन संभाग में बिजली कंपनी ने 174 अफसरों एवं कर्मचारियों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 85 को सस्पेंड और 89 आउट सोर्स कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है … इनमें इंदौर के 6 सहायक इंजीनियर और 10 लाइनमैन भी सस्पेंड किये हैं…बहरहाल इस पुरे मामले में एक जहां कांग्रेस सरकार भाजपा पर षड्यंत्र का आरोप लगा रही है तो वही भाजपा इसे सरकार की निष्क्रियता के रूप में जनता के सामने प्रदर्शित कर रही है ….

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED