मंदसौर में लगती हैं इंसानों की बोलियां, पुलिस ने किया बड़ा खुलासा!

Spread the love

मंदसौर के दामन में पहले ही वेश्यावृत्ति का कलंक है लेकिन अब जिस्मफरोशी के बाजार में इंसानों की बोलिया भी लगने लगी है..जी हाँ मंदसौर पुलिस ने मानव तस्करी का बड़ा खुलासा किया है…पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि झारखंड की रहने वाली महिला अपनी दुधमुंही बच्ची को तीस हजार रुपये में बेच रही थी. उसने एक दलाल के माध्यम से तीस हजार रुपये में बच्चों को बेचने का सौदा वेश्यावृत्ति करने वाली महिला से किया था.

मंदसौर पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने बताया कि गोदनामा अधिनियम का गलत फायदा उठा कर यह नाबालिग बच्चों की खरीद-फरोख्त कर रहे थे और बांछड़ा समुदाय के लोग इन्हें आगे चलकर वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेलते हैं, पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बच्चों का डीएनए टेस्ट भी करवाया जाएगा.

मंदसौर जिले में बांछड़ा समुदाय बड़े पैमाने पर वेश्यावृत्ति का धंधा करता है. समुदाय के लोग अपने बच्चों से वेश्यावृत्ति नहीं करवाते बल्कि खरीद फरोख्त करके लाये गए बच्चों से वेश्यावृत्ति कराते हैं. करीब 10 साल पहले भी मंदसौर में मानव तस्करी का बड़ा खुलासा करते हुए पुलिस ने बांछड़ा डेरों से करीब 70 बच्चियों को मुक्त करवाया था. एक बार फिर मंदसौर में मानव तस्करी का बड़ा खुलासा हुआ है…पुलिस पूछताछ कर आरोपियों का नेटवर्क पता करने में लगी हुई है..

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED