पंच तत्व में विलीन हुए मालवा माटी के लाल शहीद संदीप यादव, नम आखों से दी अंतिम विदाई !

पंच तत्व में विलीन हुए मालवा माटी के लाल शहीद संदीप यादव, नम आखों से दी अंतिम विदाई !
Spread the love

देवास– कश्मीर के अंनतनाग में शहीद हुए मालवा माटी के लाल वीर सैनिक संदीप यादव को उनके पैतृक गांव में राजकीय सम्मान के साथ नम आखों से अंतिम विदाई दी. इस दौरान हज़ारों देश भक्तों की मौजूदगी में शहीद संदीप यादव पंच तत्व में विलीन हुए.

‘शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले, वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशा होगा.’ एक कविता की यह पंक्तियां किसी शहीद की अंतिम विदाई को देख कर साकार हो उठती हैं. मालवा माटी के लाल वीर शहीद संदीप यादव को देवास के पैतृक गांव कुलाला में राजकीय सम्मान के साथ नम आखों से अंतिम विदाई दी गई. हर किसी की जुबां पर भारत माता की जय और शहीद संदीप यादव अमर रहे का नारा था.

क्या बच्चे क्या बूढ़े क्या महिलाएं, हर कोई हाथो में तिरंगा लिए बस एक बार शहीद की झलक देखने को बेताब नज़र आये. राहो में रखी इन फूल की पंखुड़ियों को भी इंतजार है शहीद पर न्योछावर होने का. रंगोली बना कर पाकिस्तान मुर्दाबाद का नारा बुंलंद करने वाली इन नन्ही बच्चियों ने मानो पाकिस्तान को सांकेतिक चेतवानी दे दी हो की कल फिर कोई और नौजवान पकिस्तान को मुँह तोड़ जवाब देगा.

ये हज़ारों की भीड़ मालवा माटी के लाल शहीद संदीप यादव को अंतिम विदाई देने के लिए उमड़ी. यहाँ मौजूद हर शख्स ठीक उसी श्रृद्धा से अपना शीश नवाए, जैसे किसी धार्मिक स्थल के आगे से गुजरते समय झुकाता है. यह दिखता है देश के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले रणबांकुरो के लिए देश में कितना सम्मान है. आख़िरकार शहीद संदीप यादव पंच तत्व में विलीन हो गए. जिस मिटटी में उनका बचपन गुजरा उसी मिटटी, उसी खेत में उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार
किया गया.

कभी आंखें ऐसा दृश्य भी देखतीं हैं, जिसे सहना दिल के लिए भारी पड़ता है. शुक्रवार को जब शहीद संदीप यादव का शव गांव पहुंचा तो नज़ारा कुछ इसी तरह का था.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED