मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर एक बार फिर हुए सिंधिया के चरणों में नतमस्तक

मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर एक बार फिर हुए सिंधिया के चरणों में नतमस्तक
Spread the love

ग्वालियरः मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने एक बार फिर से ज्योतिरादित्य सिंधिया की चरण वंदना की है। हालांकि इस बार मंत्री के ऐसा करने पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रद्युमन सिंह तोमर को फटकार लगाते हुए रोक दिया इसके बाद भी मंत्री नहीं माने और दंडवत ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रणाम किया। अब सवाल ये है कि क्या प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री सिंधिया के क़दमों में दंडवत न होते तो क्या उनका मंत्रिपद संकट में था..मंत्रीजी अगर अगर भरी भीड़ में फिर से पेरो में गिरते तो क्या सिंधिया के लिए आस्था में कोई कमी आ जाती है…सिंधिया के पिछले दौरे के दौरान रेलवे स्टेशन पर स्वागत के समय साक्षात दंडवत प्रणाम करने वाले द्युम्न सिंह तोमर ने फिर वाही सबकुछ दोहराया।

बुधवार सुबह जैसे ही सिंधिया रेलवे स्टेशन पहुंचे तो स्टेशन के बाहर मंत्री प्रद्युम्न सिंह उनके स्वागत के लिए समर्थकों के साथ खड़े थे। उन्होंने जैसे ही सिंधिया को देखा तो आदत के मुताबिक सिंधिया के पैर छुए और उनके सामने नतमस्तक हो गए। हालांकि इस बार ये एपिसोड इतनी तेज गति से हुआ कि कोई कुछ समझ पाता उससे पहले ही ख़त्म हो गया। लेकिन सिंधिया इस बार फिर नाराज दिखे| सिंधिया उन्हें उठाते हुए अंगुली दिखाकर ऐसा न करने की हिदायत देते हुए नजर आये|  अब सवाल ये है कि ये दंडवत सिंधिया को खुश करने के लिए है या फिर  बाकि कांग्रेस के आकाओ को ये बताने के लिए कि समर्पण इसे कहते है, सवाल ये कि सिंधिया के पैर में लोट लगाकर  मंत्रीजी क्या सन्देश देना चाहते है. भक्ति या फिर सरकार को ये इशारा कि मुखिया चाहे कोई भी हो अपने महाराज तो एक ही है।

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED