मुश्किल में मंत्री उमंग सिंघार, कमलनाथ कैबिनेट से हो सकते हैं बाहर !

मुश्किल में मंत्री उमंग सिंघार, कमलनाथ कैबिनेट से हो सकते हैं बाहर !
Spread the love

भोपाल – वन मंत्री उमंग सिंघार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर टिप्पणी करना महंगा पड़ सकता है। अनुशासन समिट की रिपोर्ट में मंत्री उमंग सिंघार दोषी पाए गए है…. मना जा रहा है कि मंत्रिमंडल से सिंघार की छुट्टु हो सकती है.. इस मामले में अब आगे की कार्रवाई पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को करना है। मध्यप्रदेश की सियासत में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर दहाड़ मारना वन मंत्री उमंग सिंघार को महंगा पड़ सकता है..जी हाँ  केंद्रीय अनुशासन समिति के अध्यक्ष एके अंटोनी की रिपोर्ट के परीक्षण में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष शिवराज पाटिल और मीरा कुमार ने सिंघार को दोषी पाया है। दोनों वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी आलाकमान को इस बारे में बता दिया है.

करीब तीन महीने पहले कमलनाथ सरकार में वनमंत्री उमंग सिंघार ने कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था । उमंग सिंघार ने दिग्विजय सिंह के अवैध रेत उत्खनन और शराब कारोबार में शामिल होने से लेकर पर्दे के पीछे से सरकार चलाने के आरोप लगाए थे ।   यह मामला हाई प्रोफाइल होने से सीधा केंद्रीय अनुशासन समिति के पास पहुंच गया था।केंद्रीय अनुशासन समिति के अध्यक्ष अंटोनी ने दिग्विजय और सिंघार से अलग-अलग चर्चा भी की थी और समिति ने सार्वजनिक छींटाकशी को अनुशासनहीनता माना था। इसके बाद कांग्रेस आलाकमान ने मध्यप्रदेश से संबंधित मामलों को सुलझाने की जिम्मेदारी पार्टी के दो दिग्गज नेताओं पूर्व लोकसभा अध्यक्ष पाटिल और मीरा कुमार को सौंपी थी और दोनों नेताओं ने सिंघार को दोषी माना है।

बता दे कि उमंग सिंघार बड़े आदिवासी नेता है..ऐसे में दूसरी तरफ बीजेपी ने निशाना साधा है..बीजेपी का मानना है आदिवासी नेतृत्व ख़त्म करने की कांग्रेस की रणनीति है…कांतिलाल भूरिया की वजह से सिंघार की बलि चढ़ेगी.अब देखना ये है कि क्या इस रिपोर्ट के आधार पर कांग्रेस अपने  विधायक और मंत्री उमंग सिंघार के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई कर पाता है, क्योंक सिंघार एक आदिवासी नेता है और झारखंड में होने वाले चुनाव में कांग्रेस ने उन्हें अपने स्टार प्रचारकों की फेहरिस्त में शामिल किया है। ऐसे में बीजेपी भी  मौके का फायदा उठाने की पूरी फ़िराक में है..

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED