रेप केस में खुद मॉनिटरिंग करेंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

रेप केस में खुद मॉनिटरिंग करेंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
Spread the love

 

मधय प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों को लेकर शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की बागडौर अब खुद अपने हाथ में ले ली हैं.अब वह खुद मंदसौर गैंगरेप की मॉनिटरिंग हर 15 दिन  में  खुद करेंगे.मुख्य सचिव और डीजीपी की मौजूदगी में उन्होंने सख्त होकर कहा कि रेप केस की जांच में ज़रा सी भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. दोषियों को फांसी की सज़ा होने तक पुलिस अपना काम मज़बूती और ईमानदारी  से करे.

मुख्यमंत्री ने प्रदेश में कानून व्यवस्था को सख्त बनाने के लिए भोपाल में अफसरों की बैठक कराई इसमें उन्होंने साफ कहा कि रेप के मामलों में दोषियों को फांसी की सजा सुनिश्चित कराई जाए. सीएम ने सागर में रेप के आरोपी को 42 दिन में फांसी दिए जाने के केस की मॉनिटरिंग करने के निर्देश भी दिए. उन्होंने अफसरों से कहा कि हाइकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक केस फॉलो किया जाए. साथ यह कहा हैं कि रेप केस की जांच के मामलों की वो खुद हर 15 दिन में मॉनिटरिंग करेंगे.

मध्यप्रदेश में रेप और गैंगरेप की लगातार वारदातों से लोगो में कड़ा आक्रोश हैं. विपक्षी दल के लिए यह मनो एक मुद्दा ही हैं. हाल ही में मंदसौर, सतना और सागर में मासूमों से रेप की वारदातों के बाद लोगों का गुस्सा उबाल रहा है. जगह-जगह ज़ोरदार प्रदर्शन कर दोषियों को फांसी पर लटकाने की मांग की जा रही है.

मंदसौर गैंगरेप केस में पुलिस ने 14 दिन के अंदर कोर्ट में चालान पेश किया गया है. 350 पेज के इस चालान में 100 लोगों को गवाह बनाया गया है.
अब देखना यह है की क्या शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश को चुनाव आने से पहले दोष मुख्त प्रदेश बना पाते हैं या इनके डाव पेंच व्यर्थ जायेंगे.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED