प्रदेश अध्यक्ष बदलने की कवायद तेज, मंत्रियों को हर हाल मौजूद रहने के निर्देश

प्रदेश अध्यक्ष बदलने की कवायद तेज, मंत्रियों को हर हाल मौजूद रहने के निर्देश
Spread the love

भोपाल : चौथी बार सत्ता में आने का ख्वाब देख रही भाजपा चुनाव से ठीक पहले सत्ता और संगठन में बड़ा फेरबदल करने की तैयारी में जुट गई है. कल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की नई दिल्ली में रात में हुई पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से चली लंबी मुलाकात के बाद प्रदेश में बड़े परिवर्तनों की संभावना जोर पकड़ गई है. माना जा रह है कि पार्टी हाईकमान प्रदेश भाजपा संगठन में बदलाव के मूड में है. विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक सीएम और शाह के बीच करीब एक घंटे एकांत में चर्चा हुई. सीएम की राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात के बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान को बदलने की कवायद तेज हो गई है.

LALSINGH-ARYA

चौहान को प्रदेश अध्यक्ष बने साढ़े तीन साल से अधिक का समय हो चुका है. जिन नेताओं के नाम नए प्रदेश अध्यक्ष पद की दौड़ में चल रहे हैं उनमें संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा का नाम प्रमुख है. नरोत्तम मिश्रा को सीएम के अलावा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे की पसंद के रूप में भी देखा जाता है. इसके अलावा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और जबलपुर के सांसद राकेश सिंह के नाम की भी चर्चा है. इसके अलावा दलित कार्ड के रूप में मंत्री लालसिंह आर्य का नाम भी आगे आया है.

NAROTTAM-MISHRA-2

केंद्रीय मंत्री प्रधान को अहम जिम्मेदारी: सूत्रों की माने तो पार्टी हाईकमान प्रदेश में चुनाव से पहले एक केन्द्रीय मंत्री को भी तैनात करेगा. मध्यप्रदेश में पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान को यह जिम्मेदारी मिल सकती है. धर्मेन्द्र प्रधान इस बार प्रदेश से राज्यसभा सांसद निर्वाचित हुए है.

कैबिनेट बैठक में मंत्रियों को हर हाल मौजूद रहने के निर्देश-

कैबिनेट बैठक को लेकर मुख्यमंत्री की ओर से आए फरमान ने मंत्रियों की धड़कनें बढ़ा दी है. इस बार कैबिनेट बैठक के पहले सीएम सचिवालय से मंत्रियों को लिखित में फरमान भेजा गया है कि वे इस बैठक में अनिवार्य रूप से मौजूद रहें. मंत्रियों से मुख्यमंत्री वन टू वन चर्चा करेंगे और उन्हें उनके विभागों के कामों का आइना दिखा सकते हैं, साथ ही जिन मंत्रियों को कैबिनेट से बाहर करना है उन्हें वे वन टू वन चर्चा में इससे अवगत करा सकते हैं.

सीएम ने फरवरी में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद बजट सत्र के बाद एक और विस्तार की बात कही थी. यह विस्तार अब जल्द होने की संभावना है. सीएम इसमें दो से तीन मंत्रियों की छुट्टी कर सकते हैं तो चार से पांच नए चेहरों को शामिल कर सकते हैं. शाह से मुलाकात के बाद सीएम को मंत्रिमंडल विस्तार को हरी झंडी मिल गई है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED