दिग्गी की वापसी और पचौरी को सम्मान, ऐसा है कांग्रेस का एडजस्टमेंट, देखिये

दिग्गी की वापसी और पचौरी को सम्मान, ऐसा है कांग्रेस का एडजस्टमेंट, देखिये
Spread the love

भोपाल : कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में देर से ही सही, दो कदम आगे बढ़ा दिए है…राहुल गाँधी के मंदसौर दौरे से पहले प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने सियासी स्क्रिप्ट के कुछ महत्त्वपूर्ण पन्ने जिस तरह से खोलकर रखे है उससे बड़ा सन्देश 4 प्रमुख नेताओं के इर्द गिर्द सिमट गया है. मिशन 2018 को ध्यान में रखते हुए कमलनाथ और सिंधिया के बाद अब दिग्विजय सिंह और सुरेश पचौरी को अहम् जिम्मेदारी सौंपी गई है. दिग्गी के हाथ में जहां समन्वय समिति की कमान है तो वही सुरेश पचौरी इलेक्शन प्लानिंग करेंगे.

राहुल गाँधी के हवाले से किया गया यह ऐलान सूबे की सियासत में न सिर्फ हलचल मचा रहा है बल्कि कई सन्देश भी दे रहा है. सन्देश साफ है…. मिशन 2018 को ध्यान में रखते हुए कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के आलावा पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और सुरेश पचौरी को महत्त्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंप दी गई है. जिस चतुराई के साथ वरिष्ठ नेताओं को तरजीह दी जा रही है उससे साफतौर पर लगता है कि कांग्रेस एकजुटता दिखाते हुए समन्वय के साथ आगे बढ़ रही है…

प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने जिस तरह झाड़ फूंक कर पुराना सामान अपनी नई दूकान में सजाया है उसे देखकर यही लगता है कि दिग्गी कमलनाथ की मज़बूरी नहीं बल्कि ज़रूरत बनकर सामने आए है…कुल मिलाकर अब सवाल यह है कि नाथ की टीम में क्या अब युवाओं की भागीदारी बढ़ चढ़कर देखने को मिलेगी या फिर वक्त की जरुरत को देखते हुए अनुभव और नई पीढ़ी के बीच सामंजस्य चलता रहेगा.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED