साध्वी प्रज्ञा के मंदिर प्रवेश पर चुनाव आयोग को ऐतराज,दिए नोटिस पर नोटिस !

Spread the love

भोपाल | भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर बैन के दौरान मंदिरो में चुनाव प्रचार करने का आरोप लगा है तो वही चुनाव आयोग का बैन खत्म होने पर एक और नोटिस जारी कर दिया है…कांग्रेस के इस आरोप पर साध्वी प्रज्ञा ने भी पलटवार करते हुए कहां मैं सन्यासी हूं। मेरे जीवन का आधार मंदिर है.
2019 के चुनावी महासंग्राम में मध्य प्रदेश की सियासत का रुख बदला हुआ है. लगातार विवादों में रहने वाली साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर चुनाव आयोग का बैन खत्म हो गया है. लेकिन साध्वी प्रज्ञा एक बार फिर मुश्किलों में घिर सकती है. कलेक्टर ने बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को एक और नोटिस भेजा है. जिसे कांग्रेस की शिकायत के बाद जारी किया है ..कांग्रेस ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर आरोप लगाए थे कि प्रतिबंध के बावजूद वो मंदिर-मंदिर घूमी और भजन कीर्तन कर प्रचार किया. इस पर साध्वी प्रज्ञा से कलेक्टर ने 2 दिन के भीतर जवाब मांगा है. साथ ही वीडियो फुटेज और फोटो उपलब्ध कराने के लिए कहा है..

तो वही भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने नोटिस के जवाब में कहां… नोटिस मुझे अगर मंदिर जाने पर मिला है मैं सन्यासी हूं। मेरे जीवन का आधार मंदिर है पूजा-पाठ है जनकल्याण और राष्ट्र कल्याण हैं… गाय माता है …गीता माता है…. गंगा माता है … हमारे धर्म शास्त्र हैं….हमें अगर इनसे कोई रोकता है तो वह अपने जीवन के बारे में सोचे..

बता दें कि बाबरी मस्जिद विध्वंस को लेकर दिए विवादित बयान पर चुनाव आयोग ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के चुनाव प्रचार पर 72 घंटे का बैन लगाया था. इस बैन के बाद तीन दिन तक साध्वी प्रज्ञा ने मंदिर-मंदिर जाकर पूजा अर्चना की. उन्होंने लोगों के बीच भजन मंडली के साथ बैठकर खूब झांझ मंजीरा बजाए. हालांकि निर्वाचन आयोग के बैन के मद्देनजर प्रज्ञा ने यहां किसी तरह की बातचीत नहीं की…

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED