छिंदवाड़ा मॉडल से दूर होगी बेरोजगारी, बोले मंत्री पीसी शर्मा!

छिंदवाड़ा मॉडल से दूर होगी बेरोजगारी, बोले मंत्री पीसी शर्मा!
Spread the love

एंकर- प्रदेश में पिछले करीब दस महीने में बेरोजगारी की दर सात प्रतिशत से घटकर 4.2 प्रतिशत हो गई है। जिसे लेकर उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी और जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने सीएम कमलनाथ को क्रेडिट दिया है..

मध्यप्रदेश में बेरोजगारी को लेकर भाजपा लगातार कांग्रेस को निशाने पर ले रही है..इस बीच कमलनाथ सरकार के लिए बड़ी राहत की खबर आई है..जी हाँ मुबंई की एक सर्वे कंपनी सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी ने एक रिपोर्ट जारी की है, जिसमें वर्तमान में बढ़ती बेरोजगारी के आंकड़ों को का जिक्र किया गया है। इस रिपोर्ट ने जहां केन्द्र की मोदी सरकार की मुश्किलें बढ़ा दी वही एमपी में दस महिने पहले बनी कमलनाथ सरकार को बड़ी राहत दी है।रिपोर्ट के अनुसार, देश के 10 राज्यों में बेरोजगारी की दर सबसे ज्यादा है, उनमें से 6 राज्यों में भाजपा की सरकार है। वही एमपी में बेरोजगारी की दर में कमी आई है यानि दिसंबर 2018 में बेरोजगारी 7% थी लेकिन सितंबर 2019 के अंत तक बेरोजगारी गिरकर 4.2% हो गई है।खास बात तो ये है कि ये रिपोर्ट तब आई है जब हाल ही में सरकार द्वारा निवेश के लिए समिट आयोजित किया गया था।वही मंत्री जीतू पटवारी और पीसी शर्मा ने इसका श्रेय सीएम कमलनाथ को दिया है..

दरअसल, सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनमी के द्वारा किए गए इस सर्वे में सामने आया है कि जिन राज्यों में बेरोजगारी दर सबसे ज्यादा है, उनमें हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश शामिल हैं। इसके अलावा नॉर्थ ईस्ट के त्रिपुरा और दक्षिण के कर्नाटक में हालात भी अच्छे नहीं हैं। त्रिपुरा में तो सितंबर के डाटा के मुताबिक, बेरोजगारी दर सबसे ज्यादा है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED