भय्यू महाराज सुसाइड केस में पुलिस का खुलासा,आत्महत्या की यह वजह आयी सामने !

भय्यू महाराज सुसाइड केस में पुलिस का खुलासा,आत्महत्या की यह वजह आयी सामने !
Spread the love

इंदौर/ कहते हैं अगर आप लोगो की मदद करते हैं तो भगवान आप पर प्रसन्न  होते हैं….भगवान् यह कहते हैं की अगर आप खुद की मदद करते हैं तो वो भी आपकी मदद करते हैं.मगर यहाँ तो मांजरा ही अलग हैं.

भय्यूजी महाराज जो की देश के आध्यात्मिक गुरु माने जाते थे,घर के तनाव के चलते खुद की मदद न कर सके.बहरहाल उन्होंने 12 जून को अपने ही घर सिल्वर स्प्रिंग में खुद को गोली मारकर खुदखुशी कर ली थी.इसका कारण उन्ही की दूसरी पत्नी और पहली पत्नी की बेटी में न बनने वाली बात सामने आयी हैं.पुलिस का यह दावा है कि भय्यूजी महाराज को न तो किसी ने धमकाया न किसी ने ब्लैकमेल किया.
डीआईजी के मुताबिक पुलिस की जांच में पारिवारिक विवाद, अवसाद,आर्थिक तंगी,आभामंडल में कमी को मुख्य वजह माना गया है.करीब 26 लोगों के बयानों के बाद पुलिस ने किसी को भी आत्महत्या का दोषी नहीं माना है. भय्यूजी महाराज  के मानसिक तनाव की मुख्य वजह दूसरी पत्नी डॉक्टर आयुषी और बेटी कुहू के बीच मनमुटाव होना पाया गया है.भय्यूजी सुसाइड केस में पुलिस की जांच लगभग पूरी हो गई है और अब कुछ रिपोर्ट के आने के बाद पुलिस कोर्ट में केस डायरी पेश कर देगी.

सुसाइड के बाद लोगों की शंका थी कि भय्यूजी महाराज सुसाइड नहीं कर सकते और सुसाइड नोट में हैंडराइटिंग उनकी नहीं हैं. लेकिन लैब से आई हैंडराइटिंग रिपोर्ट में खुलासा हो गया कि सुसाइड नोट भय्यूजी महाराज ने ही लिखा था जो की एहम साबुत था . पुलिस ने एफएसएल से बिसरा रिपोर्ट भी प्राप्त कर ली जिसमें ‘नो पॉइजन’ लिखा हुआ है.

पुलिस के मुताबिक इससे साफ़ हैं कि भय्यूजी महाराज ने आत्महत्या के पहले नशा नहीं किया था और न ही जहर खाया था. अब सिर्फ रिवॉल्वर की एफएसएस रिपोर्ट सागर लैब से आनी बाकी है, वह भी दो तीन दिन में मिल जाएगी. इस केस की सबसे अहम कड़ी भय्यूजी के सबसे करीबी और उनके उत्तराधिकारी विनायक से भी पुलिस के सात सदस्यीय दल ने कड़ी पूछताछ की लेकिन विनायक भूमिका कहीं से भी संदिग्ध नजर नहीं आई और पुलिस ने उसे भी क्लीन चिट दे दी.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED