कांग्रेस में नेताओ की “पैराशूट लेंडिंग” राहुल का ‘फॉर्मूला’ फेल !

Spread the love

भोपाल। मध्य्प्रदेश मे टिकटों की रायशुमारी लगातार जारी है,ऐसे में टिकट वितरण कांग्रेस का सबसे बड़ा सरदर्द बन हुआ है,बीजेपी इसी बात का इंतजार कर रही है की कांग्रेस टिकट देने में कोई गलती करे जिसका सीधा लाभ बीजेपी को मिले,ऐसे में मध्य प्रदेश में पिछले 15 साल से सत्ता का वनवास झेल रही कांग्रेस जीत के लिए हर तरफ हाथ पैर मारती नज़र आ रही है.

प्रदेश में कभी गठबंधन के लिए सहमत न होने वाली कांग्रेस पार्टी इस बार बीजेपी को छोड़ सभी दलों से हाथ मिलाने को तैयार है लेकिन लगभग सभी दल कांग्रेस के जहाज पर बैठने से कतरा रहा है, प्रदेश दौरे पर आये कांग्रेस सुप्रीमो राहुल गाँधी ने वादा किया था कि चुनाव के समय ऊपर से टपकने वाले ‘पैराशूट’ वाले नेताओं को टिकट नहीं दिया जाएगा,लेकिन राहुल के इस वादे के बावजूद कांग्रेस इस चुनाव में बीजेपी और अन्य दलों से आये नेताओं को टिकट देने की तैयारी में है मज़बूरी सिर्फ एक सत्ता पर काबिज होना इसके लिए कांग्रेस सभी निति नियमों को ताख पर रखने को तैयार है.

हाल ही में बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में आई कद्दावर नेता पद्मा शुक्ला का विजयराघवगढ़ सीट से मंत्री संजय पाठक के खिलाफ चुनाव लड़ना लगभग तय माना जा रहा है,इस सीट पर दोनों ही प्रत्यासी पिछले चुनाव में आमने-सामने लड़ें थे अंतर सिर्फ चुनाव चिन्ह का है,अन्य दलों से आये नेताओं को टिकट देने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ का कहना है कि जीतने वाला प्रत्याशी होना चाहिए, चाहें फिर वो बीजेपी का ही क्यों न हो.पार्टी सूत्रों के अनुसार यह तय हो गया है कि जिताऊ प्रत्याशी उतारने के लिए हाईकमान बाहरी नेताओं को मैदान में उतारने से परहेज नहीं करेगी।

बुधनी विधानसभा क्षेत्र के किसान नेता अर्जुन जी हां ये वही अर्जुन है जिन्हे सपा ने टिकट दिया था अब आर्य की कांग्रेस में शामिल होने की अटकले तेज हो गयी है, खबर है कि कांग्रेस अर्जुन आर्य को बुधनी से सीएम शिवराज के खिलाफ चुनाव लड़ा सकती है|

राहुल गाँधी की दावे के बावजूद पार्टी में चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस में शामिल होने वाले नेताओं को टिकट देना तय माना जा रहा है| ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है कि कांग्रेस को आखिर बार बार रणनीति क्यों बदलना पड़ रहा है| पार्टी में कई नेताओं को दूसरे दलों से टिकट देने के वादों के साथ लाया गया था। इनमें से रतलाम क्षेत्र के पूर्व विधायक पारस सकलेचा, होशंगाबाद गिरिजाशंकर शर्मा, रीवा क्षेत्र के पूर्व विधायक अभय मिश्रा और रतलाम से ही पंचायतीराज के नेता डीपी धाकड़ हैं। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व ने इन नेताओं को टिकट का वादा भी किया है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED