पायलट बाबा को बनाया नीलगंगा पीठ का पीठाधीश्वर !

पायलट बाबा को बनाया नीलगंगा पीठ का पीठाधीश्वर !
Spread the love

उज्जैन– सिंहस्थ महाकुंभ के दौरान साधु संतों का पड़ाव स्थल रहने वाला नीलगंगा पड़ाव स्थल अब जूना अखाड़े का नीलगंगा पीठ बन गया है। बुधवार को गंगा दशहरा के मौके पर जूना अखाड़े की इस नवनिर्मित नीलगंगा पीठ का लोकार्पण किया गया और महायोगी पायलट बाबा को इस पीठ का पीठाधीश्वर बनाया गया।

इससे पहले दत्त अखाड़ा से शिप्रा का जल लेकर कलश यात्रा शुरू की गई जिसमें सैकड़ों की संख्या में महिलाएं कलश लेकर शामिल हुईं। वहीं साधु संत और महामंडलेश्वर रथ बग्घी में बैठ कर यात्रा में शामिल हुए। कलश यात्रा के नीलगंगा पहुँचने पर यहाँ बनाये गए तीन मंजिला शिवलिंग के आकार के आध्यात्मिक भवन का महायोगी पायलट बाबा, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री हरि गिरि महाराज, महामंडलेश्वर नारायण गिरि जी महाराज, महामंडलेश्वर शैलेषानंद जी महाराज, योग माता चेतना गिरि, योग माता श्रद्धा गिरि सहित महापौर मीना जोनवाल, पार्षद दुर्गा शक्तिसिंह चौधरी की मौजूदगी में लोकार्पण किया गया।

आयोजित किये गए कार्यक्रम में सैकड़ों विदेशी मेहमान मौजूद थे और लोगों ने गंगा नदी में स्नान भी किया। इस अवसर पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की अगुवाई में सभी 13 अखाड़ो के साधु संतों ने पायलट बाबा का पट्टाभिषेक कर उन्हें नीलगंगा पीठ की जिम्मेदारी सौंपी। इसके साथ ही महापौर ने माँ नीलगंगा की प्रतिमा का लोकार्पण किया और आरती उतारी इस दौरान यहां का नज़ारा सिंहस्थमय हो गया।

कुल मिलाकर बुधवार को महायोगी पायलट बाबा का पट्टाभिषेक किया गया और चादर ओढ़ाकर नीलगंगा पीठ का पीठाधीश्वर बनाया गया। साथ ही संगीत ने कार्यक्रम में चार चाँद लगा दिए।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED