पुलिस वाले के बेटे को पुलिस ने ही पिट-पिट कर मार डाला?

पुलिस वाले के बेटे को पुलिस ने ही पिट-पिट कर मार डाला?
Spread the love

भोपाल | भोपाल पुलिस की कथित पिटाई से युवक की मौत के बाद प्रदेश की सियासत गरमा गई है,प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन ने साफ कहा है कि किसी को कानून अपने हाथ में लेने की इजाज़त नहीं दी जाएगी. फ़िलहाल इस मामले में बैरागढ़ थाना प्रभारी सहित 5 पुलिस वालों को सस्पेंड कर दिया गया है.देभर भर में पुलिस की कार्यशैली इन दिनों सुर्ख़ियों में है, दिल्ली पुलिस की बर्बरता पर मचे बवाल के बाद अब भोपाल की बैरागढ़ पुलिस पर हत्या के गंभीर आरोप लगे हैं….. सड़क हादसे के बाद हिरासत में लिए गए युवक की मौत हो गई…. परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने उनके बच्चे की पीट पीटकर मौत के घाट उतार दिया है…. युवक की मौत पर परिजनों ने हंगामा किया है, और दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग पर अड़े हैं…लेकिन एकलौते बटे की मौत से पूरा परिवार सदमे है…

वही मृतक के पिता ने पुलिस पर अपने बेटे की हत्या का आरोप लगाया है परिजनों ने कहा कि जब शिवम की थाने में पिटाई हो रही थी तो उस वक्त मृतक शिवम के चाचा जो इंदौर में सब-इंस्पेक्टर हैं, उन्होंने बैरागढ़ टीआई अजय मिश्रा को फोन लगाकर इसकी जानकारी दी थी और अपने भतीजे को छोड़ने की गुहार लगाई थी। लेकिन इसके बावजूद शिवम को बेरहमी से पीटा गया कि उसकी मौत हो गई, घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी और भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय विधायक रामेश्वर शर्मा भी अस्पताल पहुंचे …उन्होंने प्रदेश में लॉ एंड आर्डर पर सवाल खड़े लिए तो वही गृहमंत्री बाला बच्चन ने साफ कहा है कि किसी को कानून अपने हाथ में लेने की इजाज़त नहीं दी जाएगी..जांच के बात आरोपियों पर उचित कार्रवाई की जाएगी..

वही आईजी योगेश देशमुख ने बैरागढ़ थाने के टीआई अजय मिश्रा, एसआई राजेश तिवारी सहित 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है…फिलहाल पुलिस जाँच में जुट गई है. घटना मंगलवार रात ढाई बजे की है, शिवम मिश्रा ओर उसका दोस्त गोविंद शर्मा ढाबे से खाना खा कर लौट रहे थे…फिलहाल इस पुरे मामले में प्रदेश की सियासत गरमा गई है तो वही पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े हो रहे है..

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED