इंदौर और भोपाल में कोरोना के रेकॉर्डतोड़ मरीज मिले!

इंदौर और भोपाल में कोरोना के रेकॉर्डतोड़ मरीज मिले!
Spread the love

इंदौर. इंदौर और भोपाल में कोरोना के रेकॉर्डतोड़ मरीज मिल रहे है, सरकार ने राजधानी भोपाल में 10 दिन का लॉकडाउन लगाया लेकिन इंदौर में नहीं लगाया, जबकि भोपाल से ज्यादा इंदौर में हालात खराब है.. अब सवाल उठने लगे है कि आखिर क्या मजबूरी है कि इंदौर को खोलकर कोरोना को न्योता दिया जा रहा है.

मध्यप्रदेश में जिस रफ्तार के साथ कोरोना अपने पैर पसार रहा है उसे देखकर हर कोई चिंतित है…अब तो प्रदेश के मुखिया सीएम शिवराज खुद कोरोना की चपेट में आ गए…. राजधानी भोपाल और इंदौर कोरोना के बड़े हॉट स्पॉट बने हुए है…राजधानी भोपाल को 10 दिन के लिए लॉकडाउन कर दिया गया..लेकिन इंदौर में ऐसा फैसला क्यों नहीं लिया जा रहा है। सवाल उठ रहे हैं कि क्या इंदौर की स्थिति भोपाल से बेहतर है, क्या इंदौर को लॉकडाउन करने की जरूरत नहीं है। जिला प्रशासन कहता है कि मरीज बढे तो लॉकडाउन की तरफ जा सकते है तो किस बात का इंतजार किया जा रहा है..

दरअसल आंकड़े बताते हैं जुलाई महीने में इंदौर की अपेक्षा भोपाल में संक्रमण फैलने की रफ्तार तेज रही है। हालांकि अभी भी इंदौर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या भोपाल से ज्यादा है, 24 जुलाई को आई रिपोर्ट भोपाल में 221 कोरोना संक्रमित मिले और इंदौर में 153 मरीज मिले..24 जुलाई तक के आंकड़े को देखे तो राजधानी में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 5 हजार 344 हो गया.. संक्रमण से राजधानी में मरने वालों की संख्या 150 हो गई है। इंदौर में अकोरोना का आंकड़ा 6 हजार 709 लोग कोरोना पॉजिटिव है..303 लोगों की जान गई…इंदौर के कई गांवों और नए नए इलाकों में कोरोना दस्तक दे चूका है..इसके बाद भी हर दिन शहर को खोला जा रहा है…सांसद शंकर लालवानी कह रहे है कि स्थिति बिगड़ती है तो लॉकडाउन की तरफ बढ़ेंगे, खुद सांसद जी के घर कोरोना पहुँच चूका है तो आखिर कब इंदौर को लॉकडाउन किया जाएगा

बता दे कि पिछले दिनों बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने एक भावुक अपील करते हुए कहता था कि वे इंदौर में लॉकडाउन के पक्ष में नहीं है..कई भाजपा नेता लॉकडाउन का विरोध कर चुके है..कलेक्टर मनीष सिंह जिन्होंने 3 महीने के लॉकडाउन के दौरान अपनी सख्ती से इंदौर को काफी हद तक कंट्रोल में कर लिया था वो अब इंदौर के स्वास्थ्य को लेकर क्या सोच रहे है..सवाल ये है कि क्या जिला प्रशासन पर पॉलिटिकल प्रेशर है जिसकी वजह से इंदौर में लॉकडाउन नही लगाया जा रहा है

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED