सावन के दूसरे सोमवार, शिव शंकर की जय जयकार!

सावन के दूसरे सोमवार, शिव शंकर की जय जयकार!
Spread the love

ओंकारेश्वर- ओंकारेश्वर ममलेश्वर में आस्था का जनसैलाब सुबह से उमड़ने लगा है. मंदिर प्रशासन द्वारा शाम को पालकी निकाली जाएगी और मंत्रोचार के साथ भगवान का अमृताभिषेक किया जाएगा.

सावन के दूसरे सोमवार को ज्योतिर्लिंग भगवान ओंकारेश्वर ममलेश्वर में आस्था का जनसैलाब सुबह से उमड़ने लगा है. श्रीजी ज्योतिर्लिंग मंदिर प्रशासन द्वारा शाम 4:00 बजे से निर्धारित समय में भगवान ओंकारेश्वर ममलेश्वर की पालकी कोटि तीर्थ एवं नाव घाट पहुंचेगी जहां वैदिक ब्राह्मणों के गगनभेदी मंत्रोचार के साथ भगवान की रजत प्रतिमाओं का दूध से अमृताभिषेक होगा. अभिषेक पश्चात दोनों पालकियों को नर्मदा की मध्य धार में नौका विहार कराया जाएगा. बड़ी संख्या में ओंकारेश्वर आए शिव भक्त नर्मदा तट एवं झूला पुल धर्मशाला लाजो से यह विहंगम दृश्य देखेंगे.

वहीं लगभग 300 पुलिस जवान ओंकारेश्वर में सावन की व्यवस्थाओं में अपनी सेवाएं दे रहे हैं. नर्मदा के घाटों पर जगह-जगह पुलिस प्रशासन के जवान सुरक्षा की दृष्टि से तैनात किए गए हैं.

कुल मिलाकर ढोल-धमाके के साथ कावड़ यात्रियों का ओंकारेश्वर आगमन जारी है. पिछले 3 दिनों में तीन लाख भक्त ओंकारेश्वर पहुंच चुके हैं.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED