बाढ़ पीड़ितों से मिलकर भावुक हो गए शिवराज, आंखों में आ गए आंसू!

बाढ़ पीड़ितों से मिलकर भावुक हो गए शिवराज, आंखों में आ गए आंसू!
Spread the love

मंदसौर:- प्रदेश में भारी बारिश से चलते कई इलाकों में हालत बद से बत्तर हो गए है, सबसे ज्यादा स्तिथि मंदसौर और नीमच जिलों में ख़राब हुई है, जहां कई गाँव बाढ़ की चपेट में हैं.फसले बर्बाद हो चुकी ही. वहीं बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा करने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मैदान संभाल लिया है.प्रदेश की राजनीती के मामा मंदसौर पहुंचे.जहां उन्होंने बाढ़ से हुए नुकसान का जायजा लेते हुए पीड़ितों से बात की.इस मौके पर बीजेपी सांसद सुधीर गुप्ता समेत क्षेत्रीय विधायक मौजूद रहे.
शिवराज सिंह ने धुंधड़का गांव पहुंचकर उन्होंने लोगों से मुलाकात की। शिवराज ने कहा कि मैं सभी नेताओं से यही अपील करता हूं कि अभी राजनीति छोड़कर बाढ़ पीड़ितों की मदद करने आगे आएं.मैं प्रदेशवासियों से भी अपील करता हूं कि सरकार तो अपनी तरफ से काम करेगी, लोगों को भी अपनी ओर से आगे आकर मदद करना चाहिए.

वही शिवराज ने साफ किया है कि बाढ़ के संकट के समय किसी भी तरह की दोषारोपण नहीं किया जाएगा. प्रशासन का पूरा सहयोग किया जाएगा साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री ने खुद की और मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता और विधायक यशपाल सिसोदिया की एक माह को सैलरी बाढ़ पीड़ितों को देने की घोषणा की.
उन्होंने कहा स्थिति भयानक है, जनता संकट में है, हम चुप नहीं बैठ सकते .उन्होंने कहा हमारा धर्म और कर्तव्य हमें पुकार रहा है कि हम जनता की सेवा के लिए जो बेहतर कर सकें वह करने का प्रयास करें .

आपको बता दे की मालवा-निमाड़ में लगातार बारिश से हालत बेकाबू हो गए हैं. सबसे ज्यादा प्रभावित जिले नीमच और मंदसौर में 100 से ज्यादा गांव के 20 हजार से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED