कमलनाथ के मंत्रियों को बंगले से OUT करेगी शिवराज सरकार !

कमलनाथ के मंत्रियों को बंगले से OUT करेगी शिवराज सरकार !
Spread the love

भेपाल –  प्रदेश में कांग्रेस सरकार के सत्ता से जाने के बाद सरकारी बंगलों पर कब्जा जमाए पूर्व मंत्रियों को बंगला खाली करने की सियासत खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। गृह विभाग ने एक बार फिर पूर्व मंत्रियों को बेदखली का नोटिस जारी कर दिया है। करीब 22 पूर्व मंत्रियों को नोटिस जारी कर 15 जून तक सरकारी आवास खाली करने को कहा गया है।

राज्य संपदा विभाग से जारी किए गए नोटिस में लिखा गया है कि श्यदि पूर्व मंत्री सरकारी आवास खाली नहीं करते हैं तो 15 जून के बाद बल प्रयोग के जरिए सरकारी आवास खाली कराया जाएगा। गौरतलब है कि इससे पहले भी संपदा ने सभी 22 पूर्व मंत्रियों को बंगला खाली करने का नोटिस जारी किया था।  पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट  के सरकारी बंगले को सील कर दिया गया था।

लेकिन उस वक्त तरुण भनोट के सरकारी आवास पर मौजूद नहीं होने के चलते बाद में सील खोलकर उन्हें सामान निकालने की कुछ समय की मोहलत दी गई थी।  एक दिन पहले ही संपदा की टीम तरुण भनोट का सरकारी बंगला खाली कराने पहुंची थी लेकिन तरुण भनोट के गैर मौजूद होने के कारण टीम वापस लौट गई अब संपदा ने सभी 22 पूर्व मंत्रियों को फिर से नोटिस जारी कर 15 जून तक की मोहलत दी है।

इसके बाद लोक परिसर बेदखली अधिनियम के तहत बंगला खाली कराने की कवायद शुरू की जाएगी. सरकारी बंगला खाली कराने के नोटिस को लेकर पूर्व मंत्रियों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान  को पत्र भी लिखा है. लेकिन उन्हें अभी तक इसका कोई जवाब नहीं मिला है. वही पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने इसे बदले की कार्रवाई करार दिया।

सरकारी आवास को लेकर अब पूर्व की कमलनाथ सरकार के मंत्रियों और मौजूदा बीजेपी सरकार के बीच तकरार तेज हो चुकी है। अब तक कोरोना संकट काल का हवाला देते हुए पूर्व मंत्रियों को दी गई मदद की मियाद खत्म होने को है और देखना यह होगा कि सरकार के नोटिस जारी करने के बाद पूर्व मंत्री सरकारी बंगला खाली करते हैं या फिर इसे लेकर राजनीतिक पारा अभी और चढ़ेगा।

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED