MP कांग्रेस में छिड़ी महाभारत, कमलनाथ और सिंधिया विवाद में शिवराज की एंट्री !

MP कांग्रेस में छिड़ी महाभारत, कमलनाथ और सिंधिया विवाद में शिवराज की एंट्री !
Spread the love

भोपाल : मध्यप्रदेश कांग्रेस में मुख्यमंत्री कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच मनमुटाव अब खुलकर सामने आ गया..सिंधिया कमलनाथ की तकरार पर अब कांग्रेस में ही बयान का पलटवार हो रहा है..  क्या मध्य प्रदेश कांग्रेस में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है? क्या मध्य प्रदेश कांग्रेस में फिर हावी है गुटबाजी? क्या सिंधिया और कमलनाथ के बीच कुछ मतभेद चल रहे हैं? ये सवाल शनिवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ के एक बयान के बाद एक बार फिर खड़ा हो गया है…

दरअसल, मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार 15 सालों के वनवास के बाद बड़ी मुश्किल से बन पाई है. हालांकि, कांग्रेस को चुनाव में पूर्ण बहुमत नहीं मिला था. लेकिन सपा, बसपा और निर्दलीयों के समर्थन से कांग्रेस ने सरकार बना ली थी और वरिष्ठ नेता कमलनाथ को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री भी बना दिया गया थी. इसके बाद से ही लगातार ज्योतिरादित्य सिंधिया अलग-अलग मुद्दों को लेकर कमलनाथ सरकार पर हमला करते रहते हैं.

हाल ही में सिंधिया ने टीकमगढ़ की एक सभा में अतिथि शिक्षकों से कहा था कि हमारी सरकार यदि वचनपत्र में दिए वचनों को पूरा नहीं करेगी तो वो अतिथि शिक्षकों के साथ सड़क पर उतरेंगे. शनिवार को पत्रकारों ने जब मुख्यमंत्री कमलनाथ से इस पर प्रतिक्रिया लेनी चाही तो कमलनाथ ने गुस्से में दो टूक जवाब देते हुए कहा कि ‘तो वो उतर जाएं’.

कमलनाथ के इस चौंकाने वाले बयान के बाद भी सिंधिया अपने बयान पर अडिग नजर आए और उन्होंने फिर से कमलनाथ को सड़क पर उतरने की धमकी दे डाली. कमलनाथ के जवाब के बाद अब दिग्विजय खेमे के मंत्री उन्हें नसीहत दे रहे हैं.. मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने कहा कि उन्हें कोई भी बात घर में बैठकर करनी चाहिए..उधर मंत्री जीतू पटवारी ने भी कहा कि सिंधिया कमलनाथ और दिग्विजय एक है–एक तरफ जहां दिग्विजय सिंह खेमे के मंत्री डॉ गोविंद सिंह सिंधिया को दो टूक कह रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ सरकार में सिंधिया समर्थक मंत्री उनके साथ खड़े हो गए हैं. सिंधिया खेमे की महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कहा अगर सिंधिया जी सड़कों पर उतरेंगे तो पूरी कांग्रेस उनके साथ सड़कों पर उतरेगी.

कांग्रेस के इस संग्राम पर बीजेपी हमलावर हो गई..पूर्व सीम शिवराज ने कहा कि कांग्रेस, पार्टी है या सर्कस..सभी नेता एकदूसरे को निपटाने में लगे है–पहले सिंधिया का सड़क पर उतरने वाला बयान देना और फिर उसके जवाब में सीएम कमलनाथ का तल्ख अंदाज में जवाब कहीं न कहीं इस ओर इशारा कर रहा है कि कांग्रेस में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. वो भी तब पार्टी में नए प्रदेश अध्यक्ष को लेकर अटकलें चल रही हों. सूत्रों की मानें तो शनिवार को दिल्ली में हुई समन्वय समिति की बैठक के दौरान भी सिंधिया, दिग्विजय और कमलनाथ के बीच कुछ मुद्दों को लेकर तल्खी सामने आई. ये भी कहा गया कि सिंधिया बैठक बीच में ही छोड़कर निकल गए. हालांकि, बाद में ज्योतिरादित्य सिंधिया की ओर से इस बात का खंडन किया गया.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED