एमपी में सिंह vs सिंघार, खूब हो रही तकरार !

एमपी में सिंह vs सिंघार, खूब हो रही तकरार !
Spread the love

भोपाल :-सिंह vs सिंघार की लड़ाई में अब सीएम कमलनाथ कूद चुके है.जी हाँ इस बयान युद्ध को खत्म करने के लिए सीएम कमलनाथ ने मंत्री उमंग सिंघार को मंत्रालय तलब किया और कड़ी नसीहत दी.

मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह और वन मंत्री उमंग सिंघार के बीच बढ़ते विवाद को देखकर सीएम कमलनाथ एक्टिव हो गए. सीएम कमलनाथ ने मंगलवार को वन मंत्री उमंग सिंघार को तलब किया. मंत्री सिंघार शाम करीब सवा सात बजे सीएम हाउस पहुंचे और करीब 1 घंटे तक वहां रहे. हालांकि सीएम कमलनाथ से मुलाकात के बाद उमंग सिंघार ने मीडिया से कोई बातचीत नहीं की और सीधे सीएम हाउस से रवाना हो गए.सूत्रों की मानें तो सीएम कमलनाथ ने उमंग सिंघार को ऐसी किसी भी बयानबाजी से बचने के लिए कहा है. जिससे सरकार की छवि खराब होती हो. जबकि वन मंत्री उमंग सिंहार के अलावा सीएम कमलनाथ ने मंगलवार शाम पार्टी के कई और बड़े नेताओं से भी मुलाकात की जिसमें कैबिनेट मंत्री कमलेश्वर पटेल, हर्ष यादव, जीतू पटवारी और कांग्रेस प्रदेश मीडिया प्रभारी शोभा ओझा शामिल थीं.

बता दें, इससे पहले पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह को लेकर वन मंत्री सिंघार के बयानों का दौर तीसरे दिन भी जारी रहा. मंगलवार सुबह उमंग सिंघार ने दिग्विजय सिंह को ब्लैकमेलर तक करार दे दिया. उनके बयान से भोपाल से लेकर दिल्ली तक कांग्रेस में हड़कंप है, तो बीजेपी सरकार को घेरने में जुटी है.

दिग्विजय और सिंघार के बीच चल रही ‘तनातनी’ को लेकर कांग्रेस की मीडिया प्रभारी शोभा ओझा ने कहा कि ये घर की बात है, इस तरह की बातें पब्लिक डोमेन में ही करना चाहिए है विपक्ष को मौका मिलता है.

गौरतलब है कि मंत्री उमंग सिंघार आदिवासी नेता है.और आगामी दिनों में झाबुआ में उपचुनाव होना है लिहाजा सीएम कमलनाथ मंत्री सिंघार को लेकर कोई रिस्क नहीं लेना चाहते है.यही वजह है कि कोई बड़ा एक्शन लेने की बजाय सरकार इस मसले को चतुराई के साथ निपटाना चाहती है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED