SP गौरव तिवारी ने सुलझाई नृशंस अंधे कत्ल की गुत्थी !

Spread the love

रतलाम | छह दिन पहले कमेड़ गांव में जिस आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या होना बताया गया था, वह आरएसएस कार्यकर्ता नहीं निकला ….हत्या आरएसएस कार्यकर्ता हिम्मत पाटीदार की नहीं, बल्कि उसके पूर्व नौकर मदन मालवीय की हुई थी
बीते दिनों रतलाम जिले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता की हत्या के मामले में प्रदेश की सियासत गरमा गई थी …भाजपा कांग्रेस पर लगातार जुबानी हमले बोल रही थी …लेकिन इन सब पर पूर्ण विराम लगाया ..तेज तर्रार IPS अधिकारी, पुलिस कप्तान SP गौरव तिवारी ने…..c ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया की …आरएसएस कार्यकर्ता हिम्मत पाटीदार ने बीमा की रकम पाने के लिए अपनी हत्या की साजिश रची और मजदूर मदन मालवीय की हत्या कर चेहरे को बुरी तरह जला दिया, ताकि आसानी से पहचान न हो सके.

SP तिवारी के ‘जब मामला संदिग्ध हुआ तो पुलिस ने मृतक के कपड़े और अन्य सामग्री पोस्‍टमॉर्टम के बाद सुरक्षित रख लिया। बाद में उसे सागर स्थित लैब में भेजा गया जहां जांच में पुष्टि हुई है कि शव हिम्मत का न होकर मदन का था। फिलहाल हिम्मत फरार है, उसकी तलाश जारी है

गौरतलब है कि 23 जनवरी को बिलपांक थाना क्षेत्र के कमेड़ गांव के खेत में एक शव मिला था जिसे संघ कार्यकर्ता हिम्मत का बताया गया था। इस पर बीजेपी ने कांग्रेस सरकार पर जमकर हमले किए थे…

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED