कृषि मंत्री का अजीब बयान, मेहनतकश युवा को नहीं होता कोरोना !

कृषि मंत्री का अजीब बयान, मेहनतकश युवा को नहीं होता कोरोना !
Spread the love

उज्जैन –  अक्सर अपने बयानों के कारण विवादों में रहने वाले कृषि मंत्री और हरदा विधायक कमल पटेल एकबार फिर अपने एक बेतुके बयान के कारण चर्चा में हैं। दरअसल कृषि मंत्री सोमवार को उज्जैन स्थित बाबा महाकाल के मंदिर दर्शन करने पहुंचे थे। इस दौरान वह शासन द्वारा निर्धारित गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाते हुए पाए गए। कोरोना को देखते हुए मंदिर में बाहर से पुजा सामग्री लाने पर प्रतिबंध है। लेकिन मंत्रीजी ने बाबा को प्रणाम करते हुए साथ लेकर आए पूजन सामग्री को पुजारी को थमा दिया।

इसके अलावा कृषि मंत्री सोशल डिस्टेंस का माखौल उड़ाते भी पाए गए। वहीं मंदिर परिसर के बाहर मीडिया से बात करते हुए मंत्री कमल पटेल ने कहा कि जो युवा मेहनत करते हैं खून-पसीना बहाते हैं। उनको कोई कोरोना नहीं होता, कोरोना भाग जाएगा। भारत का नौजवान परिश्रमी और मेहनती है, अपना खून-पसीना बहाता है, इसलिए उनके ऊपर कोरोना का असर होने वाला नहीं है।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि कोरोना का असर उन्हीं पर ज्यादा है जो 65 साल से अधिक उम्र के हैं और बीमार हैं। ऐसे में अब यह बड़ा सवाल है कि अगर सरकार के नुमाइंदे ही सरकार के नियम का माखौल उड़ाएंगे, तो फिर जनता से इसकी क्या उम्मीद करना।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED