मंदसौर में किसान आंदोलन की आहट तेज, पिपलिया मंडी में हुंकार भरेगा अन्नदाता!

मंदसौर में किसान आंदोलन की आहट तेज, पिपलिया मंडी में हुंकार भरेगा अन्नदाता!
Spread the love

मंदसौर:- मध्य प्रदेश में एक बार फिर किसान आंदोलन की आहट सुनाई दे रही है.जी हाँ किसान आंदोलन के नाम पर पूरे देश में चर्चित हो चुका मंदसौर एक बार फिर आंदोलन की राह पर है. मंदसौर के साथ अब नीमच और रतलाम के अफीम किसान आंदोलन की रणनीति तैयार कर रहे हैं.सोमवार को हुए प्रदर्शन के बाद मंगलवार को भी किसानों ने एकजुटता दिखाई और मंदसौर में जमकर प्रदर्शन किया. सोमवार को अफीम नीति के विरोध में अफीम काश्तकारों ने विरोध प्रदर्शन किया.अफीम कार्यालय का घेराव किया तो केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की.किसानों ने हल्लाबोल महारैली निकाली. इसके बाद कमिश्नर प्रमोदसिंह को वित्तमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा. इसके बाद भी किसानों का आक्रोश जारी है.

वही सीएम कमलनाथ की घोषणा के बाद भी किसानों की कर्जमाफी और बाढ़ पीड़ितों तक राहत नहीं पहुंची है.ऐसे में 18 अक्टूबर को किसान पिपलियामंडी में आंदोलन करेंगे.वही शिवराज ने भी सरकार को आंदोलन की चेतावनी दी है.

वही दूसरी तरफ किसानों के आंदोलन पर कमलनाथ सरकार के मंत्री सज्जन वर्मा का कहना है कि किसान संघ के लोग चिल्लाते रहते है.हमारी सरकार ने 20 लाख किसानों का कर्जमाफ किया है.और सूचि तैयार है.

गौरतलब है कि पिपलियामंडी मंदसौर की वही जगह जहाँ शिवराज सरकार के समय किसान आंदोलन हुआ था.और इस बार प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है और किसानों का आक्रोश फिर भड़कने लगा है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED